जब IAS अफसर ने महिला बीडीओ के बीच सड़क पर फाड़े कपड़े, लगाया ये गंभीर आरोप… फिर रोड पर ही जमकर हुई मारपीट, तमाशा देखते रहे राहगीर…

मऊ 5 नवंबर 2019। कोपागंज ब्लाक में ग्राम विकास अधिकारी के पद पर तैनात सपना ने सोमवार को सदर एसडीएम आइएएस अतुल वत्स पर मारपीट का आरोप लगाया है। फातिमा चौराहे के निकट हुई इस घटना में महिला ग्राम विकास अधिकारी ने जमकर उत्पात मचाया। एसडीएम पर गंभीर आरोप भी लगाये। हाइवे पर नोक-झोंक को देख लोगों की  भीड़ एकत्रित हो गई। महिला ने एसडीएम पर पिटाई करने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है। कोपागंज ब्लाक पर तैनात महिला अधिकारी सपना सिंह के अनुसार, सोमवार दोपहर बाद साढ़े तीन बजे नगर में जाम लगा था।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

पीछे से एसडीएम की गाड़ी हूटर बजाते हुए आ रही थे परंतु जाम के चलते कहीं साइड देने की जगह नहीं थी। ऐसे में गाड़ी रोककर एसडीएम उतरे और भला-बुरा कहते हुए उसके कपड़े फाड़ दिए। उनके नाखून से शरीर पर खरोंचें भी आने का आरोप लगाया। इस प्रकरण का पता चलते ही ग्राम विकास अधिकारी संघ भी महिला वीडीओ के साथ लामबंद हो गया। काफी तादात में ग्राम विकास अधिकारी पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे। वहां उन्होंने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एसडीएम के विरुद्ध कार्रवाई का पत्रक सौंपा। इसके बाद वे जिलाधिकारी के यहां गए। यहां ग्राम विकास अधिकारी संघ ने 24 घंटे के अंदर एफआइआर दर्ज करने का अल्टीमेटम दिया।

इस बारे में संयुक्त मजिस्ट्रेट, एसडीएम सदर अतुल वत्स ने कहा कि डा. भीम राव आंबेडकर स्पोर्टस स्टेडियम में जाने के दौरान गाजीपुर तिराहे के निकट महिला वीडीओ की तेज रफ्तार चार पहिया वाहन से एक साइकिल सवार को धक्का लग गया, वह गिर गया। इसके बाद भी वाहन रुका नहीं। मैंने भी फातिमा चौराहे के निकट उसकी गाड़ी रोकवाकर पूछना चाहा। इतने पर महिला भड़क गई। वहां उनके सहित मौजूद लोगों को भला-बुरा कहने लगी। इस दौरान मीडिया कर्मियों की माइक को भी छीन लिया। मेरे ऊपर लगाए गए इल्जाम झूठे और निराधार हैं।

सपना के समर्थन में उतरा बीडीओ संघ

कोपागंज ब्लाक में ग्राम विकास अधिकारी के पद पर तैनात सपना ने सोमवार को सदर एसडीएम आइएएस अतुल वत्स पर दुव्र्यवहार करने, कपड़ा फाडऩे और मारपीट करने आरोप लगाया है। उधर इन गंभीर आरोपों को लेकर ग्राम विकास अधिकारी संघ भी सपना के समर्थन में मैदान में कूद पड़ा है।  संघ के प्रतिनिधिमंडल ने डीएम और एसपी से मिलकर पत्रक सौंप संयुक्त मजिस्ट्रेट के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की तथा इसके लिए प्रशासन को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया।

 

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.