VIDEO : घोटाले में CMHO सहित अब तक 3 अफसरों पर FIR दर्ज…. साढ़े सात करोड़ के घोटाले में कई और अफसरों पर भी गिर सकती है गाज…..फर्जी तरीके से खरीद का है मामला

वेदप्रकाश संगम@newpowergame.com

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

दंतेवाड़ा 16 जून 2019। स्वास्थ्य विभाग में घोटाला मामले में अफसरों पर गाज गिरनी शुरू हो गयी है। फर्जीवाडे में शामिल जिले के तीन अफसरों पर अब तक एफआईआर दर्ज हो चुका है।  जिन अफसरों व कर्मियेां पर मामला दर्ज हुआ है उनमें तत्कालीन सीएमएचओ डॉ. एचएच ठाकुर, डीपीएम सर्वजीत मुखर्जी और सीएमएचओ कार्यालय के अकाउंटेंट बीएस साहू शामिल हैं।  तीनों पर आईपीसी की धारा 420 और 34 का मामला सिटी कोतवाली में पंजीबद्ध कर लिया गया है।

ज्ञात हो कि विधानसभा चुनाव के लिये आचार संहिता लगने से ठीक एक दिन पहले स्‍वास्‍थ्‍य विभाग को सात करोड़ 47 लाख रूपये के चि‍कित्‍सकीय उपकरणों व फर्नीचर खरीदने की स्‍वीकृति मिली थी, लेकिन इससे पहले ही विभाग ने मप्र की तीन फर्मो को वर्क आर्डर जारी कर दिया था। मामला सामने आने के बाद तत्कालीन कलेक्टर सौरभ कुमार ने एक जांच दल गठित कर पूरे मामले की जांच कराई थी। जांच में पाया गया था कि स्वास्थ्य विभाग ने भंडार क्रय नियमों का पालन नहीं किया गया। जांच दल की रिपोर्ट कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा को सौंपी गयी थी, जिसके बाद जिला खनिज अधिकारी प्रमोद नायक ने इन तीनों के खिलाफ सिटी कोतवाली में एफआईआर दर्ज कराया है। सिटी कोतवाली से मिली जानकारी अनुसार पुलिस की जांच पूरी होने के बाद इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी संभव है। पुलिस के मुताबिक पूर्व में की गयी जांच एवं खरीदे गये सामानों का बाजार मूल्य व फर्मों को उसी सामान के लिये अदा किये गये राशि का अंतर समेत अन्य बिंदुओं पर जांच की जायेगी. जिसके बाद ही इस मामले में आगामी कार्रवाई होगी.

खनिज अधिकारी की शिकायत पर स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के तात्‍कालीन सीएमएचओ डॉ एचएल ठाकुर, डीपीएम सर्वजीत मुखर्जी और एकांउंटेंट बीएस साहू के खिलाफ 420, 34 का मामला दर्ज कर लिया गया है। जांच उपरांत आगामी कार्रवाई की जायेगी। इस धारा के तहत आरोपियों की गिरफ्तारी भी संभव है।

 

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.