टूरिज्म बोर्ड की कमाई हुई 4.05 करोड़ और खर्च कर डाले इससे भी 92 लाख ज्यादा; अब पीपीपी मोड पर चलाए जाएंगे होटल-मोटल

रायपुर, 21 नवंबर 2019। छत्तीसगढ़ टूरिज्म बोर्ड के संचालक मंडल की बैठक में गुरुवार को कमाई और खर्च का ब्योरा सुनकर अफसर भी हैरान रह गए। बोर्ड ने 2018-19 में टूरिस्ट से 4.05 करोड़ की कमाई की है, लेकिन मेंटेनेंस, खान-पान, कर्मचारियों के वेतन आदि में 4.97 करोड़ रुपए खर्च कर डाले। यानी कमाई से 92 लाख रुपए ज्यादा। इस आंकड़े को देखकर सभी हैरत में पड़ गए। संचालक मंडल ने तय किया है कि जो भी होटल, मोटल, रेस्ट हाउस और रिसॉर्ट हैं, उन्हें तत्काल रेनोवेट कर पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप में दिए जाएं। पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि दूसरे देशों या विदेशों में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए जो सुविधाएं दी जा रही हैं, उसे यहां भी अपनाएं। होटल, मोटल और रिसॉर्ट में अच्छा खाना, साफ-सफाई रखें, जिससे लोग यहां ठहरें और बोर्ड को कमाई हो। इसके अलावा प्रचार प्रसार करने के भी निर्देश दिए। बैठक में विशेष सचिव पी. अन्बलगन, एमडी इफ्फत आरा सहित वन, संस्कृति, परिवहन, रेलवे, एयरपोर्ट अथारिटी के भी अधिकारी मौजूद थे।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

Get real time updates directly on you device, subscribe now.