आरक्षक को लौटना था आज ड्यूटी पर…. थाने पहुंची उसकी मौत की खबर, कुछ सालों पहले पत्नी ने भी किया था सुसाइड….पढ़े पूरी खबर

रायपुर 10 नवंबर 2019। अब ये… पत्नी की मौत का गम था या फिर बिमारी का दर्द लेकिन राजधानी में आज सुबह एक कांस्टेबल ने जिस तरह से अपनी जान दी उससे हर कोई हैरान है। बीमारी की वजह से पांच दिनों की छुट्टी पर चल रहे जवान को आज थाने में अपनी आमद दर्ज करानी थी, उससे पहले ही उसकी मौत की खबर उसके सहकर्मियों को मिली। घटना टीकरापारा थाना क्षेत्र की है। आरक्षक का नाम बिहारी साहू (50वर्ष) सिविल लाईन में पदस्थ है।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

कांस्टेबल बिहारी साहू कुछ दिनों से बिमार थे, इस वजह से वो इलाज के लिये सिविल लाईन थाने से पांच दिनों की छुटटी ले रखी थी। जब इस घटना की जानकारी सिविल लाईन थाने में हुई तो सभी पुलिसकर्मी सहित थानेदार भी हैरान रह गये। बताया जा रहा हैं कि आरक्षक की पत्नी ने भी कुछ सालों पहले इसी तरह से खुदकुशी कर ली थी। जानकारों के मुताबिक तब से ही बिहारी साहू काफी परेशान था। साथ ही खुद की बीमारी से भी वो काफी तनाव में चल रहा था। आरक्षक बिहारी साहू के तीन बच्चें हैं जिनमें से एक बड़ी लड़की की शादी हो चुकी हैं, वहीं छोटा बेटा 12 वीं में पढ़ रहा है और बेटी का इसी वर्ष ग्रेजुएट कंप्लीट हुआ है। अपने दोनों बेटी-बेटा के साथ बिहारी साहू लक्ष्मी नगर टिकरापारा के घर में रहता था। रोज की तरह आज सुबह भी बिहारी साहू उठ कर अपने छोटे बेटे को चाय बनाने कहा और फिर छत पर व्यायाम करने के लिये चला गया। कुछ देर बाद जब बेटे ने छत में जाकर देखा तो पिता ने छत के कमरे में लगी खिड़की पर फंदा डालकर आत्महत्या कर ली थी। जिसकी जानकारी घर के लोगों ने टीकरापारा थाने में दी गयी।

घटना के संबंध में सिविल लाईन पुलिस ने बताया कि बिहारी साहू काफी शांत स्वाभाव का था और बिमारी के चलते वो ज्यादा बात किसी से नहीं करता था। तबियत खराब होने के कारन बिहारी साहू को फिल्ड वर्क से ऑफिस काम में पदस्थ किया गया था। कुछ दिनों से सर में तेज दर्द के कारन उसने इलाज के लिये पांच दिनों की छुट्टी सिविल लाईन थाने से ली थी। आज उनकों ड्यूटी पर भी लौटना था, अचानक उनकी मौत की खबर सभी को हैरान करने वाली है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.