ट्रिपल सवारी लेकर ADG निकले शहर घुमने, बीच सड़क पर इंस्पेक्टर ने रोका, जानिए उसके बाद क्या हुआ….

कानपुर 1 नवंबर 2019। दिवाली की छुट्टियों के बाद बैंक खुलने पर एडीजी प्रेम प्रकाश ने खुद ही सुरक्षा व्यवस्था को जांचा। इस दौरान बिना वर्दी के एडीजी ट्रिपल सवारी में बाइक चलाते रोड पर दिखाई दिये। कानपुर की यातायात व्यवस्था और पुलिस की मुस्तैदी परखने के लिए बुधवार को बाइक से एडीजी प्रेम प्रकाश निकले। साथ ही उन्होंने बैंकों की सुरक्षा व्यवस्था का भी जायजा लिया। काली पल्सर पर दो लोगों के साथ सवार होकर निकले एडीजी प्रेमप्रकाश ने परखा कि यातायात नियमों का पालन सही से कराया जा रहा है या नहीं।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

एडीजी एसपी साउथ ऑफिस के बाहर पहुंचे। जहां उन्होंने अपनी स्कूटी छोड़ दी और एक सिपाही की काली पल्सर बाइक ली। बाइक में दो और लोगों को बैठाकर तीन सवारी बर्रा बाईपास की ओर निकले। जैसे ही बर्रा सचान चौराहे के पास एडीजी पहुंचे तो वहां मौजूद इंस्पेक्टर सतीश सिंह ने तीन सवारी देख उनकी गाड़ी रोक ली। एडीजी ने हेलमेट उतारा तो सभी पुलिसकर्मी सकपका गए। इंस्पेक्टर ने सर जयहिंद कहकर सैल्यूट मारा। इसके बाद चौराहे पर रुककर बैरियर और टायर लगवाकर उन्होंने चेकिंग लगवाई।  बिना हेलमेट गाड़ी चलाने वालों को रुकवाकर चालान कटवाया। बर्रा थाना इंस्पेक्टर की सजगता देख उन्हें शाबाशी दी।

इसके पहले एडीजी प्रेमप्रकाश सुरक्षा का जायजा लेने के लिए गोविंदनगर स्थित एचडीएफसी, आईसीआईसीआई,  इलाहाबाद बैंक मुख्य शाखा बड़ा चौराहा समेत कई बैंक गए थे। इस दौरान बिना वर्दी के एडीजी पिस्टल लेकर बैंकों में गए लेकिन कहीं भी गार्ड या बैंक स्टॉफ ने उन्हें चेक नहीं किया। बैंक स्टाफ से पूछताछ के बाद जब उन्होंने पिस्टल निकालकर दिखाई तो सभी के होश उड़ गए। उन्होंने गार्डों को भी फटकार लगाई। स्टॉफ को अलर्ट रहने व मॉक ड्रिल कराने के निर्देश दिए। एडीजी ने बताया कि एचडीएफसी बैंक शाखा में चौकी इंजार्च का नंबर नहीं मिला। वहीं, आईसीआईसीआई बैंक में स्टॉफ के पास और बैंक में पीआरवी 0438 के प्रभारी का भी नंबर था। एडीजी ने बैंक के स्टॉफ से कॉल कराकर समय चेक किया तो पांच मिनट के अंदर ही पीआरवी बैंक में पहुंच गई। अच्छा रिस्पांस मिलने पर उन्होंने पांच सौ रुपए इनाम दिया। बैंकों में इमरजेंसी पर 112 नंबर डॉयल करने की भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि किसी भी बैंक में मैनेजर नहीं मिला। विजिटर रजिस्टर भी फटे मिले। बैंक के सायरन जरूर बज रहे थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.