शिक्षक विहीन और एकल शिक्षक विद्यालयों में शिक्षकों की होगी भर्ती, खनिज न्यास संस्थान समिति की बैठक आयोजित

रायपुर, 11 अक्टूबर, 2019। प्रदेश के कबीरधाम जिले में शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने और स्कूलों में शिक्षकों की कमी को दूर करने के लिए शिक्षक विहीन और एकल शिक्षक स्कूलों में जल्द ही वैकल्पिक व्यवस्था के तहत शिक्षकों की भर्ती की जाएगी। साथ ही जिला चिकित्सालय में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार करते हुए रेडियोलाॅजिस्ट की विशेष की भर्ती की जाएगी। यह निर्णय जिले की प्रभारी मंत्री एवं महिला बाल विकास तथा समाज कल्याण विभाग मंत्री अनिला भेड़िया की अध्यक्षता में आयोजित जिला खनिज न्यास संस्थान समिति की बैठक में लिया गया।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

वन, परिवहन, आवास एवं पर्यावरण मंत्री तथा कवर्धा विधायक मोहम्मद अकबर ने बैठक में जिले की सरकारी स्कूलों में शिक्षा व्यवस्था बेहतर करने और जिला अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार पर चर्चा करते हुए प्रभारी मंत्री के संज्ञान में लाते हुए कहा कि कबीरधाम जिले की सरकारी स्कूलों में अध्यापन कार्य कराने और वनांचल सहित जिला चिकित्सालय में चिकित्सा स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए जिला खनिज न्यास संस्थान समिति से वैकल्पिक व्यवस्था के तहत शिक्षकों और रेडियोलाॅजिस्ट विशेष की नितांत आवश्यकता है। उन्होंने कलेक्टर को जल्द ही शिक्षकों की कमी को दूर करने के लिए शिक्षकों की भर्ती प्रकिया शुरू करने के लिए कहा। बैठक में शिक्षकों की भर्ती के लिए जिले के निवारसत अतिपिछड़ी जनजाति बैगा समुदाय के शिक्षित युवक-युवतियों को प्राथमिकता देने के लिए भी निर्णय लिया गया। बैठक में जिले में समुचित पेयजल व्यवस्था बनाए रखने और पाईप लाईन विस्तार एवं मरम्मत कार्य के लिए 38 लाख रूपए की भी मंजूरी दी गई।

प्रभारी मंत्री अनिला भेड़िया ने कहा कि राज्य सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य और आमजनों की मूलभूत सुविधाओं की कमी को दूर करने के लिए अनेक निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में छत्तीसगढ़ जिला खनिज संस्थान न्यास नियम-2015 में नए संशोधनों के बाद अब डीएमएफ राशि से शासकीय अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाओं के उन्नयन और उन्हें प्रभावी बनाने के काम किए जा सकेंगे। खनन और खनन संबंधी गतिविधियों से प्रत्यक्ष प्रभावित क्षेत्रों के परिवार के सदस्यों को नर्सिंग, चिकित्सा शिक्षा, इंजीनियरिंग, विधि, प्रबंधन, उच्च शिक्षा, व्यवसायिक पाठ्यक्रम, तकनीकी शिक्षा, शासकीय संस्थाओं, महाविद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों में शैक्षणिक शुल्क और छात्रावास शुल्क के भुगतान के साथ ही सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग और आवासीय प्रशिक्षण की व्यवस्था भी इस मद से की जा सकेगी।

जिला खनिज न्यास समिति की पूर्व में आयोजित बैठक में बताया गया कि कबीरधाम जिले के समुचित विकास के लिए जिला खनिज संस्थान न्यास मद से उच्च और निम्न प्राथमिकता के क्षेत्र में वर्ष 2019-20 के लिए 11 करोड़ 80 लाख रूपए के प्रस्ताविक कार्यों का अनुमोदन किया गया था। वार्षिक कार्य योजना में उच्च प्राथमिकता वाले कार्यों के लिए 10 करोड़ 55 लाख रूपए और निम्न प्राथमिकता वाले कार्यों के लिए 1 करोड़ 25 लाख रूपए के कार्य शामिल है। बैठक में पंडरिया विधायक ममता चन्द्राकर, कलेक्टर  अवनीश कुमार शरण, जिला खनिज संस्थान न्यास के सदस्यगण सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

विज्ञापन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.