इरीगेशन इंजीनियर को युवती ने जाल में फंसा ठग लिये 2 लाख….थाने में शिकायत दर्ज, युवती मोबाइल बंद कर हुई रफ्फूचक्कर

रायपुर 10 नवंबर 2019। ...आनलाइन ठगी का सिलसिला खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। जालसाजी के इस जाल में इस बार एक इंजीनियर फंसे हैं। सिंचाई विभाग में पदस्थ कार्यपालन अभियंता सतीश जाधव आनलाइन ठगी का शिकार बनाते हुए एक युवती ने 2 लाख रुपये ठग लिये। जानकारी के मुताबिक बीमा पॉलिसी के नाम पर महिला ने एक्यूकेटिव इंजीनियर को ठगी का शिकार बनाया।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

कार्यपालन अभियंता का नाम सतीश जाधव बताया जा रहा है, जो रायपुर में इरीगेशन विभाग में पदस्थ हैं। मिली जानकारी के मुताबिक इंजीनियर सतीश जाधव की एक पॉलिसी HDFC बैंक से संचालित था, जो पिछले कुछ सालों से बंद हो गया था। पिछले कुछ दिनों से लगातार एचडीएफसी के कस्टमर केयर के नाम से एक महिला कार्यपालन अभियंता सतीश को फोन कर रही थी। लोक लुभावन आफर देते हुए युवती ने इंजीनियर को अपने जाल में फंसा लिया। महिला ने दावा किया कि वो बंद हो चुकी उसकी पॉलिसी को खोलवा सकती है, लेकिन इसके एवज में कुछ रकम जमा करनी होगी।

महिला के झांसे में कार्यपालन अभियंता आ गये और उन्होंने सितंबर महीने में 15 दिन के भीतर दो किश्तों में 2 लाख रुपये कार्यपालन अभियंता के खाते में जमा करा दिये। इधर पैसे एकाउंट में आते ही महिला ने अपना मोबाइल बंद कर लिया । एक्यूकेटिव इंजीनियर की जब तमाम संपर्क करने की कोशिश बेकार हो गयी, तो इस मामले में इंजीनियर ने थाने में जाकर शिकायत दर्ज करायी। खम्हारडीह थाने में दर्ज शिकायत के आधार पर फिलहाल जांच चल रही है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.