IPS को ड्रग्स तस्करी मामले में 15 साल कैद की सजा… 1995 बैच के IPS अफसर और उनके बॉडीगार्ड को भी कोर्ट ने सुनायी सजा

मुंबई 19 अगस्त 2019। ड्रग तस्करी के मामले में IPS अफसर साजी मोहन को कोर्ट ने 15 साल कैद की सजा सुनायी है। आईपीएस साजी के अलावे उनके बॉडी गार्ड को 10 साल की सजा दी गयी है। 1995 कैडर के अधिकारी साजी मोहन और चार अन्य लोगों के खिलाफ 2009 में मामला दर्ज किया गया था। साजी मोहन पर NCB में रहते हुए ड्रग्स कारोबार करने का आरोप था. मुंबई एटीएस ने साल 2009 में साजी मोहन और 3 लोगों को पकड़ा था. उनके पास से कुल 44 किलो ड्रग्स बरामद हुआ था. मामले में साजी मोहन के साथ राजेश कुमार भी गिरफ्तार हुआ था. अदालत ने दोनों को दोषी करार दिया है, जबकि तीसरे आरोपी को बरी कर दिया गया.

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

पुलिस ने 2009 में आईपीएस साजी मोहन को उस वक्त अरेस्ट किया था जब ये नारकोटिक्स कंट्रोल बोर्ड के जोनल डायरेक्टर थे। चंडीगढ़ में एक जांच के 12 किलो ड्रग्स कम पाई गई थी, जिसके बाद आईपीएस पर मामला दर्ज हुआ था। फिलहाल मुंबई में भी आईपीएस के खिलाफ एक मामला चल रहा है।गौरतलब है मुंबई एटीएस द्वारा ड्रग स्मगलिंग के आरोप में गिरफ्तार आईपीएस अधिकारी साजी मोहन के एक खुलासे ने गृह मंत्रालय को हिला कर रख दिया था। सूत्रों के अनुसार, बड़ी मात्रा में हेरोइन के साथ गिरफ्तार किए गए मोहन ने पूछताछ के दौरान एटीएस मुंबई को बताया था कि प्रवर्तन निदेशालय कोच्चि में पोस्टिंग करवाने के लिए मैंने दो करोड़ रुपये की रिश्वत दी थी।

विज्ञापन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.