DGP ने पुलिस अधीक्षकों को चेताया, विभाग का नाम खराब करने वाले पुलिस अधिकारियों की खैर नहीं! लोगों से की अपील…पीएचक्यू में करें शिकायत, जरूर कार्रवाई होगी

रायपुर, 9 अक्टूबर 2019। डीजीपी डीएम अवस्थी ने कदाचार और भ्रष्टाचार में लिप्त पुलिस अधिकारियों और सिपाहियों को कंट्रोल करने के लिए पुलिस अधीक्षकों को सख्त शब्दों में चेताया है। उन्होंने आम नागरिकों से आग्रह किया है ऐसे पुलिस अधिकारियों की जांच के लिए पुलिस मुख्यालय में शिकायत सेल खुल गया है। आप शिकायत करें, निश्चित तौर पर ऐसे पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
डीजीपी ने सूबे के सभी पुलिस अधीक्षकों और थानेदारों को पत्र लिखकर नाराजगी जताई है कि 14 जून को उन्होंने थानों को आदर्श जनसेवा केंद्र के रूप में विकसित करने कहा था। पुलिस अधीक्षकों ने इसे सभी थानों को सर्कुलेट भी किया था। डीजीपी ने लिखा है, इस परिपत्र के बाद भी सूबे में पुलिस अधिकारियों के खिलाफ लगातार गंभीर किस्म के कदाचार और भ्रष्टाचार के मामले सामने आ रहे हैं। इससे परिलक्षित होता है कि थानों को उक्त परिपत्र भेजने के बाद भी सही ढंग से उसका परिपालन नहीं कराया जा रहा है। उन्होंने पुलिस अधीक्षकों को फिर आगाह किया है कि वे इसे संज्ञान में लें और पुलिस अधिकारियों के ऐसे कृत्यों पर लगाम लगाएं।
पुलिस प्रमुख ने आम लोगों से भी आग्र्रह किया है कि प्रदेश में पुलिस अधिकारियों की शिकायतों के लिए पुलिस मुख्यालय में शिकायत सेल का गठन किया जा चुका है। आप निर्भय होकर कंप्लेन करें। पुलिस वाले अगर दोषी पाए गए तो निश्चित तौर पर उनके खिलाफ निलंबन के साथ ही वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

विज्ञापन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.