विधायक देवेंद्र बहादुर सिंह से संविलियन अधिकार मंच के प्रतिनिधिमंडल ने की मुलाकात……. संविलियन की लगाई गुहार

रायपुर 6 नवंबर 2019। प्रदेश में संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों ने सोशल मीडिया को हथियार बनाने के साथ-साथ प्रदेश के विधायकों, मंत्रियों और मुख्यमंत्री से मुलाकात कर अपने संविलियन के लिए निवेदन करने की रणनीति बनाई है जिसके बाद अलग-अलग जिले में प्रतिनिधिमंडल ने विधायकों को ज्ञापन सौंपने का सिलसिला शुरू कर दिया है इसी कड़ी में महासमुंद जिले के बसना विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत संविलियन अधिकार मंच के जिला संयोजक सुरेंद्र दीवान के नेतृत्व में संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों ने बसना विधानसभा के विधायक देवेंद्र बहादुर सिंह से मुलाकात की और उन्हें अपनी परेशानियों से अवगत कराया । चर्चा में शिक्षाकर्मियों ने विधायक को बताया कि उन्हें पंचायत विभाग में रहने के कारण समय पर वेतन तक नहीं मिलता है यहां तक कि प्रदर्शन करने के बाद दीपावली पूर्व शिक्षाकर्मियों को ले देकर वेतन मिला है वरना दो-दो, तीन-तीन महीने उन्हें वेतन के लिए ही इंतजार करना पड़ता है इसके अतिरिक्त विगत 3 सालों से शिक्षाकर्मियों को महंगाई भत्ता दिया ही नहीं गया है जिसके चलते उन्हें जबर्दस्त आर्थिक नुकसान सहना पड़ रहा है , स्थानांतरण नीति भी प्रदेश में शिक्षाकर्मियों के लिए जारी ही नहीं की गई ऐसे में इन समस्त परेशानियों का हल संविलियन ही है । शिक्षाकर्मियों ने विधायक महोदय से निवेदन किया कि अब प्रदेश में मात्र 25000 शिक्षाकर्मी संविलियन से वंचित है ऐसे में सरकार अपने जनघोषणा पत्र के वादे के मुताबिक उनका संविलियन कर देती है और उसके बाद नई भर्ती करती है तो शिक्षाकर्मियों को भी न्याय मिल जाएगा और बेरोजगार भाई बहनों को नौकरी भी और न्यायालयीन प्रक्रिया भी समाप्त हो जाएगी जो उन्हें मजबूरी में दायर करना पड़ा है ।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

शिक्षाकर्मियों की बात सुनने के बाद विधायक देवेंद्र बहादुर सिंह ने उन्हें विश्वास दिलाया कि वह पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव से इस विषय में बात करेंगे और जन घोषणा पत्र के क्रियान्वयन के लिए अपनी तरफ से प्रयास करेंगे ।

 

विधायक देवेंद्र बहादुर सिंह से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधिमंडल में जिला संयोजक सुरेंद्र दीवान के साथ साथ
राजेश प्रधान,राधेश्याम बरिहा,कमलेश निराला, खिरोद्र साहू,हेमंत विशाल,प्रकाश तांडी,
देवसिंग सिदार,निरंजन मेहेर
वैष्णव , राधा सिदार
द्वारका चौहान शामिल थे ।

इस मुद्दे पर बात करते हुए संविलियन अधिकार मंच के प्रदेश संयोजक विवेक दुबे और जिला संयोजक सुरेन्द्र दीवान ने बताया कि

संविलियन अधिकार मंच के बैनर तले प्रदेश के 28 जिलों में हमारी टीम तैयार हो चुकी है जो अपने अपने विधानसभा क्षेत्र के विधायकों मंत्रियों को संविलियन की मांग को लेकर ज्ञापन सौपेगी और अपनी परेशानियों को अवगत कराएगी । संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों की समस्त परेशानियों का समग्र हल संविलियन ही है और इसके लिए हम अपने तरीके से लगातार प्रयासरत हैं , हमें उम्मीद है कि सरकार हमारे विषय में जल्द ही उचित निर्णय लेगी*।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.