कलेक्टर का दिवाली ऑफर…भूत-प्रेत साबित कर के दिखाओ और 50 हजार इनाम पाओ

भुबनेश्वर, 26 अक्टूबर, 2019। भूत-प्रेत के अस्तित्व को लेकर लंबे समय से बहस छिड़ी हुई है। विज्ञान भूत-प्रेत के अस्तित्व को स्वीकार नहीं करता, लेकिन एक बड़ा वर्ग है, जो न केवल भूत-प्रेत के अस्तित्व को स्वीकार करता है, बल्कि उसका प्रचार करता है। इनमें अनपढ़ या कम पढ़े-लिखे लोग ही नहीं, बल्कि शिक्षित लोग भी शामिल हैं। खैर हम बात कर रहे हैं कलेक्टर के ऑफर की। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के गृह जिले गंजाम के कलेक्टर विजय अमृत कुलंगे ने भूत-प्रेत का अस्तित्व साबित करने पर 50 हजार इनाम की घोषणा की है। यह इनाम वे अपनी जेब से देंगे। कुलंगे का कहना है कि वे भूत-प्रेत को नहीं मानते। उनका मानना है कि कोई भी व्यक्ति भूत-प्रेत या काले जादू के कारण बीमार नहीं होता, इसलिए किसी नीम हकीम या झाड़ फूंक वाले के पास ले जाने के बजाय अस्पताल ले जाना चाहिए, जिससे कि उसका सही इलाज हो सके।
बता दें कि ओडिशा में आज भी जादू-टोने जैसे घटनाएं काफी होती हैं। हाल ही में जादू टोने के शक में दांत निकालने और कुछ लोगों को मानव मल खिलाने की घटनाएं हुई हैं। इसके बाद ही लोगों में जागरूकता लाने के लिए कलेक्टर कुलंगे ने यह ऐलान किया है।
कलेक्टर का कहना है कि उनकी साप्ताहिक शिकायत सेल की बैठक में, लोग शिकायतें लेकर आते हैं कि उन्हें टोना-टोटका से जुड़ी घटनाओं का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। लगातार जागरूकता अभियान के बावजूद, कुछ ग्रामीण गलोग अब भी अंधविश्वास में विश्वास करते हैं।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.