रेत मसले पर CM भूपेश की सदन में घोषणा  “माफिया को पनपने नहीं दिया जाएगा.. स्थानीय व्यक्ति को मिल रहा ठेका..हम इस मसले पर टोल फ़्री नंबर करेंगे जारी” रेत मसले पर जवाब से असंतुष्ट विपक्ष का बहिर्गमन 

रायपुर,29 नवंबर 2019। प्रदेश में रेत खनन को लेकर विपक्ष ने सदन में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पेश किया। विपक्ष की ओर से धर्मजीत सिंह, बृजमोहन अग्रवाल, शिवरतन शर्मा, नारायण चंदेल,अजय चंद्राकर और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने सदन में बात रखी।
धर्मजीत सिंह ने कहा-
“रेत के व्यवसाय में ऐसे लोग आ गए हैं कि गैंगवार की स्थिति उत्पन्न होगी,रेत की दरें भी बेहद उंची है,अवैध रेत खदान चल रही हैं..3 करोड़ से ज़्यादा की राजस्व नुकसान हो चुका है..”
वरिष्ठ विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा
“रेत में शराब की तरह माफिया सक्रिय हो चुका है, रायपुर में ही सात सौ से उपर आवेदन दिए गए हैं..यह ख़तरनाक स्थिति की ओर बढ़ती स्थिति है”
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ध्यानाकर्षण में उठाए मुद्दों पर विस्तार से सदन को जानकारी दी
“हम रिवर्स बिडिंग के साथ रेत के ठेके दे रहे हैं, जिसकी न्यूनतम दर ज़िले स्तर पर तय की जाती है,माईनिंग प्लान का सख़्ती से पालन किए जा रहे हैं,NGT के निर्देशों का सख़्ती से पालन कर रहे हैं”
सदन के नेता मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सदन में घोषणा की
“रेत खनन को लेकर किसी माफिया को पनपने नहीं दिया जाएगा.. सरकार रेत खनन के मसले पर टोल फ़्री नंबर उपलब्ध कराया जाएगा.. क़ानून का कड़ाई से पालन किया जाएगा..”
हालाँकि विपक्ष ने जवाब से असंतुष्ट होकर सदन से बहिर्गमन कर दिया।बहिर्गमन के ठीक पहले बृजमोहन अग्रवाल ने कहा
“आज आप मुस्कुरा रहे हैं, लेकिन यह आगे चल कर राज्य के लिए क़ानून व्यवस्था की समस्या बन जाएगी”

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

ये खबर भी पढ़ें

50 लाख केंद्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार का तोहफा, रिटायरमेंट उम्र को लेकर किया बड़ा ऐलान

Get real time updates directly on you device, subscribe now.