CBSE ने बदला 10वीं-12वीं का पैटर्न, जानें- क्या हुए हैं खास बदलाव….अब प्रश्न पत्र को इस तरह से करना होगा साल्व…छात्रों को होगी सहुलियत

रायपुर 3 नवंबर 2019।  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद (CBSE) ने 2019-20 सत्र के लिए 10वीं और 12वीं कक्षा के पैटर्न में बदलाव किए हैं. अब हर विषय के पेपर में 1 नंबर वाले 25 फीसदी बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे.

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

CBSE Exam Pattern: सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं कक्षा के पैटर्न को बदला है. सोमवार को केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने छात्रों की गहन सोच और तर्क क्षमता को बढ़ाने के लिए 2019-20 सत्र से 10वीं और 12वीं कक्षा के पैटर्न में बदलाव किए हैं. रमेश पोखरियाल ने लोकसभा में सांसद केशरी देव पटेल और चिराग पासवान द्वारा उठाए गए सवाल के जवाब में ये महत्वपूर्ण जानकारी दी. रमेश पोखरियाल ने बताया कि प्रश्नपत्र में 20 फीसदी सवालों को बहुविकल्पीय और 10 फीसदी को रचनात्मक बनाया जाएगा. सभी सवालों के 33 फीसदी हिस्से में छात्रों को इं‍टरनल ऑप्शन मिलेगा.

अब हर विषय के पेपर में 1 नंबर वाले 25 फीसदी बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे. वहीं, जिन विषयों में प्रैक्टिकल नहीं होते हैं, उनमें इस बार से इंटरनल असेसमेंट लिया जाएगा. ये इंटरनल असेसमेंट 20 अंकों का होगा. बता दें कि 2020 में होने वाली 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में भी ये बदलाव लागू होंगे. इसके संबंध में CBSE ने कुछ दिनों पहले सर्कुलर भी जारी किया था. इस सर्कुलर के मुताबिक 10वीं कक्षा में पास होने के लिए हर सब्जेक्ट में प्रैक्टिकल व थ्योरी में मिलाकर 33 प्रतिशत अंक लाने होंगे. इसमें कहा गया है कि 12वीं में ऐसा नहीं है. 12वीं के स्टूडेंट्स को पास होने के लिए प्रैक्टिकल, थ्योरी और इंटरनल असेसमेंट में अलग-अलग 33 फीसद अंक लाने होंगे. 12वीं परीक्षा में 70 अंक वाले विषय में 23 और 80 अंक वाले विषय में 26 अंक लाना जरूरी होगा.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.