370 के बाद कश्मीर में बड़ा हमला, आतंकियों ने 5 बाहरी मजदूरों को गोलियों से भूना….सर्च आपरेशन जारी:

जम्मू 29 अक्टूबर 2019। आतंकियों ने कुलगाम में हमला किया है, जिसमें 5 मजदूरों की मौत हो गई है. जबकि एक घायल है. मारे गए सभी मजदूर कश्मीर से बाहर के हैं. जम्मू और कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद से घाटी में ये सबसे बड़ा आतंकी हमला है. आतंकियों की कायराना हरकत से साफ है कि वे कश्मीर पर मोदी सरकार के फैसले से बौखलाए हुए हैं और लगातार आम नागरिकों को निशाना बना रहे हैं.

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

जम्मू और कश्मीर पुलिस ने कहा कि सुरक्षा बलों ने इस इलाके की घेराबंदी कर ली है और बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चल रहा है. अतिरिक्त सुरक्षा बलों को बुलाया गया है. माना जा रहा है कि मारे गए मजदूर पश्चिम बंगाल के थे.

ये हमला ऐसे समय हुआ है जब यूरोपियन यूनियन के 28 सांसद कश्मीर के दौरे पर हैं. सांसदों के दौरे के कारण घाटी में सुरक्षा काफी कड़ी है. इसके बावजूद आतंकी बौखलाहट में किसी ना किसी वारदात को अंजाम दे रहे हैं. डेलिगेशन के दौरे के बीच ही श्रीनगर और दक्षिण कश्मीर के कुछ इलाकों में पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आईं.मरने वाले तीन मजदूरों की पहचान हो चुकी है. इनके नाम मुस्लिम शेख, कमरूद्दीन और रसिक अहमद है. दो की पहचान होनी बाकी है. एक मजदूर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उसका नाम जहूरुद्दीन है. वो पश्चिम बंगाल का रहने वाला है.

यह हमला उस दिन हुआ है जब यूरोपीय संघ का एक प्रतिनिधिमंडल अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू कश्मीर को प्राप्त विशेष राज्य का दर्जा वापस लिये जाने के बाद स्थानीय लोगों से बात करने और उनका अनुभव जानने के लिए कश्मीर की यात्रा पर है. अनुच्छेद 370 पर केंद्र के फैसले के बाद से आतंकवादी ट्रक वालों और मजदूरों खासकर उन लोगों को को निशाना बना रहे हैं जो कश्मीर के बाहर से घाटी में आये हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.