Home ब्यूरोक्रेट्स वीडियो: ASP सुखनंदन राठौर ने किया ”मोला झोलटू राम बना दिये” गाने...

वीडियो: ASP सुखनंदन राठौर ने किया ”मोला झोलटू राम बना दिये” गाने पर डांस, वीडियो देख गरियाबंद समेत पूरा प्रदेश हुआ मुरीद…

0

फारुख मेमन

गरियाबंद 12 जुलाई 2019। इन दिनों गरियाबंद एडिशनल एस.पी सुखनंदन राठौर को लोग एक अलग ही रूप में देख रहे हैं। जिसकी चर्चा पूरे छत्तीसगढ़ में हो रही है निश्चित रूप से गरियाबंद में एडिशनल एसपी जिस खूबसूरती और मजबूती के साथ लोगों के बीच अपनी जवाबदारी निभा रहे हैं। ठीक उसी तरह सुखनंदन सिहं राठौर सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भी अपनी कला को प्रदर्शित कर रहे हैं। बीते दिनों अपने मित्र के शादी में पहुंचने के बाद समारोह में झोलटू राम गाना चल रहा था तो वे स्वयं बरबस ही इस छत्तीसगढ़ धुन पर थिरकने लगे।

लोग इस विडीयों को लगातार एक दूसरे के व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से फैला रहे हैं। इस संबंध में एडिशनल एसपी सुखनंदन सिह राठौर से चर्चा करने पर उनका कहना था वे छत्तीसगढ़ी सांस्कृतिक कार्यक्रमों में बचपन से ही भाग लेते आ रहे हैं। स्कूली जीवन में ही उन्होंने तीसरी चौथी में जब छत्तीसगढ़ी गाना बजता था तब वो अपने आप थिरकने लगते थे। स्कूलों में होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेते थे।

उन्होंने आगे कहा कि अपने माटी, अपनी संस्कृति अपनी भाषा पर सभी को गर्व होना चाहिए। बता दें कि वे मूल रूप से करारी गाँव सक्ति जांजगीर के रहने वाले हैं। आगे बताते हैं कि जब वो एनसीसी में थे तो संस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिए अपने कला को उभरने प्रयास करते रहे हैं यह भी उनके लिए एक बहुत बड़ा सहयोग बना है। जिसके चलते हुए आज विभिन्न छत्तीसगढ़ी गानों पर थिरकते हैं। छत्तीसगढ़ी भाषा के प्रति वह कहते हैं कि वे अपनी गाड़ी में जब चलते हैं तो छत्तीसगढ़ी गाना ही पूरी तरह से बजाते हैं। रात को जब सोते हैं तो छत्तीसगढ़ी एल्बम को देखना अधिक पसंद करते हैं । गानों के एक एक स्टेप देखकर उन्हें ऐसा करने की कोशिश करते हैं।

उन्होंने शादी में झोलटू राम गाने पर डांस को लेकर कहा कि अपने मित्र के यहां शादी में गए थे इसी दौरान यह झोल टू राम का गाना चल रहा था तो बरबस ही उनके कदम इस गाने पर थिरकने लगे। उस दौरान लोगों ने इसको रिकॉर्ड कर लिया। जिसके कारण यह यह पूरे छत्तीसगढ़ में फैल गया है। लोग उन्हें फोन कर करके बधाई दे रहे हैं निश्चित रूप से वह जब इस कार्यक्रम को पेश किए तब उनके दिमाग में यह सारी बातें नहीं थी।