Home कॉरपोरेट चुनाव ड्यूटी से छुट्टी मांगने वाले “शिक्षकों की छुट्टी” करने के मामले...

चुनाव ड्यूटी से छुट्टी मांगने वाले “शिक्षकों की छुट्टी” करने के मामले का विरोध शुरू….संजय शर्मा बोले-कर्मचारी को अपने अधिकारी से छूट मांगने का अधिकार, आवेदन पर विचार होना चाहिए

0

रायपुर 20 मार्च 2019। लोकसभा चुनाव से राहत के लिए मेडिकल ग्राउंड के आधार पर छुट्टी मांगने वााले चार शिक्षकों को फोर्सली रिटायरमेेंट पर भेजनेे के

फैसले पर शिक्षकों में विरोध शुरू हो गया है।पंचायत एवम नगरीय निकाय शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष संजय शर्मा ने कहा कि निर्वाचन में डयूटी से छूट देने का निवेदन करना गलत नही है,,प्रदेश के सभी कर्मचारी चुनाव आचार संहिता लगने के बाद निर्वाचन अधिकारी के अधीन हो जाते है।

जब किसी कर्मचारी को स्वास्थ्यगत परेशानी है,,तो उसे अपने अधिकारी को अवगत कराकर निर्वाचन कार्य से छूट मांगने का अधिकार है।

संजय शर्मा ने कहा है कि निर्वाचन अधिकारी उसके निवेदन पर संतुष्ट नही है, तो शासकीय डॉ से उसके स्वास्थ्य का परीक्षण कराने के बाद निर्णय ले सकते है,,आवेदन पर छूट नही देने का अधिकार उचित है,, चुनाव कार्य से छूट मांगने पर स्वास्थ्य कारण से अनिवार्य सेवा निवृति का पत्र जारी करना,,कर्मचारी के साथ उचित नही है,,और यह मानवता के भी खिलाफ है।

उन्होंने कहा है कि सामान्य प्रशासन विभाग के जिस निर्देश का उल्लेख किया गया है,,इस पत्र का आशय विभागीय काम काज को ठीक से नही कर पाने की क्षमता पर आधारित है,,यहाँ निर्वाचन एक समय विशेष के लिए अत्यावश्यक सेवा है,,अतः इस विषय पर सम सामयिक निर्णय की आवश्यकता है।

निर्वाचन अधिकारी को ऐसे स्वास्थ्यगत निवेदन पर विचार करना चाहिए।