Home खेलकूद हरभजन ने किया विश्वकप की अपनी 15 सदस्यीय टीम का ऐलान….

हरभजन ने किया विश्वकप की अपनी 15 सदस्यीय टीम का ऐलान….

103
0

नई दिल्ली 12 फरवरी 2019। भारत के दिग्गज स्पिनर रहे हरभजन सिंह ने मई में शुरू हो रहे आईसीसी विश्वकप 2019 के लिए अपनी पसंदीदा टीम इंडिया का ऐलान कर दिया है। भज्जी की  15 सदस्यीय टीम में एक युवा खिलाड़ी को जगह नहीं मिली है इसके अलावा टीम में उन सभी खिलाड़ियों के नाम हैं जिन्हें लगातार टीम इंडिया में खेलने का मौका मिल रहा है। भज्जी ने टीम में दो ऐसे खिलाड़ियों को शामिल किया है जो वनडे टीम का नियमित हिस्सा नहीं रहे हैं।

भज्जी की टीम में जगह नहीं बना पाने वाले खिलाड़ी हैं आतिशी विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत। जिन्हें विश्वकप के लिए टीम में शामिल किए जाने की वकालत सुनील गावस्कर और सौरव गांगुली जैसे कई पूर्व दिग्गज कर चुके हैं। पंत को न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 टीम में शामिल किया गया था लेकिन वो वहां अपनी छाप नहीं छोड़ सके। कीवी टीम के खिलाफ हालिया टी-20 सीरीज में वो तीन मैचों में 4,40 और 28 रन की पारियों सहित कुल 72 रन बना सके। ऐसे में हरभजन की टीम में वो फिट नहीं बैठे।  वहीं भज्जी ने अपनी टीम में चौंकाते हुए ऑलराउंडर विजय शंकर और तेज गेंदबाज उमेश यादव को भी शामिल किया है। वहीं रवींद्र जडेजा को भी उन्होंने संभावित खिलाड़ियों की सूची में शामिल किया है।

भज्जी की टीम में बल्लेबाजी और गेंदबाजी का सही संतुलन है। बल्लेबाजी की कमान जहां रोहित रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, अंबाती रायुडु, एमएस धोनी, केदार जाधव और दिनेश कार्तिक संभालेंगे वहीं गेंदबाजी की कमान कुलदीप यादव,युजवेंद्र चहल,  जसप्रीत बुमराह,  भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद, दिनेश कार्तिक, उमेश यादव के हाथों में होगी। वहीं ऑलराउंडर की भूमिका में हार्दिक पंड्या और विजय शंकर होंगे। दोनों के होने से टीम का संतुलन बढ़ता है। धोनी के लिए रिजर्व विकेटकीपर की भूमिका में दिनेशा कार्तिक होंगे। ऐसे में विजय शंकर और दिनेश कार्तिक के एक साथ टीम में शामिल होने की वजह से रिषभ पंत को भज्जी की टीम में जगह नहीं मिल पाई है। यदि चयनकर्ताओं की नजर एक तेज गेंदबाजी और स्पिन ऑलराउंडर को टीम में शामिल करने पर होगी तो विजय शंकर की जगह रवींद्र जडेजा का हार्दिक के साथ टीम में जगह मिल सकती है।

उमेश यादव भज्जी की सूची में चौकाने वाला नाम है। उमेश ने हालिया समाप्त हुई रणजी ट्रॉफी में शानदार गेंदबाजी करते हुए विदर्भ को खिताब तक पहुंचाने में अहम भूमिका अदा की। उन्होंने इस सीजन चार मैच खेले और 24 विकेट झटके। वहीं विजय शंकर ने ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया है। इस दौरान खेले चार वनडे मैच में शकर कोई विकेट नहीं ले सके लेकिन बल्ले से उन्होंने अपनी उपयोगिता साबित की। कीवी टीम के खिलाफ तीसरे वनडे में उन्होंने 45 रन की शानदार पारी खेली। इसके साथ तीन नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए कीवी टीम के खिलाफ टी-20 सीरीज में 89 रन बनाए।