Home बड़ी खबर बीजेपी नेता ने ही की कांग्रेस नेत्री प्रेमिका की हत्या…..धोखा देने के...

बीजेपी नेता ने ही की कांग्रेस नेत्री प्रेमिका की हत्या…..धोखा देने के लिए ‘दृश्यम’ की तरह गाड़ दिया कुत्ते का शव….शादी करना चाहती थी, इसलिए फिल्म देखकर मारकर जलाने का बनाया प्लान

0

भोपाल 12 जनवरी 2019। दो साल से लापता कांग्रेस नेत्री ट्विंकल डागरे की हत्या कर दी गयी थी। उसका अपहरण किया और घर ले जाकर मार डाला। बाद में टिगरिया बादशाह इलाके में शव ले जाकर जला दिया। इंदौर पुलिस ने जब दो साल पुराने एक हत्याकांड का खुलासा किया तो सभी चौंक गए। स्थानीय भाजपा नेता, उसके बेटों और  दोस्त ने अजय देवगन की चर्चित फिल्म ‘दृश्यम’ देखकर महिला की हत्या की साजिश रच डाली और महिला को मौत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने इस मामले में भाजपा नेता और उसके तीन बेटों समेत पांच लोगों को धर दबोचा है। आरोपियों ने ट्विंकल को मारने के पहले तीन दिन तक फिल्म दृश्यम देखी थी।

हत्या की वजह जगदीश करोतिया और ट्विंकल की शादी का फैसला था। ट्विंकल जगदीश शादी करना चाहते, जिसे लेकर बेटों में आक्रोश था। यही गुस्सा ट्विंकल की मौत का कारण बना। इंदौर के बाणगंगा क्षेत्र में 16 अक्टूबर 2016 को 20 वर्षीय ट्विंकल डागरे नाश्ता लेने का कहकर घर से निकली थी। यहीं से आरोपियों ने उसका अपहरण कर लिया था। वारदात को अंजाम देने के पहले आरोपियों ने तीन दिन तक फिल्म दृश्यम देखी थी और फिर ट्विंकल की हत्या की थी।

हत्याकांड का खुलासा करते हुए डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्रा ने बताया कि बाणगंगा क्षेत्र में रहने वाली 22 वर्षीय ट्विंकल डागरे की हत्या के मामले में 65 वर्षीय भाजपा नेता (BJP Leader) जगदीश करोतिया उर्फ कल्लू पहलवान, उसके तीन बेटों-अजय, विजय और विनय और उसके साथी नीलेश कश्यप को गिरफ्तार किया गया है. डीआईजी के मुताबिक पहले से ही विवाहित जगदीश करोतिया के ट्विंकल नाम की महिला के साथ कथित तौर पर अवैध संबंध थे. ट्विंकल भाजपा नेता के साथ उसके घर में रहना चाहती थी, जिसको लेकर भाजपा नेता के परिवार में आये दिन कलह होता था।

पुलिस के अनुसार आरोपी अपरहण कर ट्विंकल को एमआर-10 स्थित निर्वाणा गार्डन के पीछे एक मैदान में ले गए और हत्या कर दी। अगले दिन एक नेता का कुत्ता बताकर ट्विंकल की लाश को सांवेर रोड स्थित इंडस्ट्रियल एरिया में एक प्लाट पर ले जाकर आग के हवाले कर दिया और अवशेष को नाले में बहा दिया था। पुलिस को जलाए गए स्थान से ट्विंकल की बिछिया, ब्रेसलेट, कपड़े सहित कुछ अन्य सामान मिला है। जिसे जब्त कर पुलिस जांच के लिए भेजेगी। पुलिस ने वह कार और बाइक भी जब्त कर ली है, जिसे वारदात के दौरान उपयोग किया गया था।

16 अक्टूबर 2016 को ट्विंकल घर से नाश्ता लेने जा रही थी। तभी उसका अपहरण कर घर ले गए और रात में उसकी हत्या कर दी। अगले दिन सुबह उसका शव कार में रखकर टिगरिया बादशाह इलाके में अगरबत्ती फैक्टरी के पास ले जाकर जला दिया था।

अजय ने पुलिस को बताया कि वह और पिता जब शव जला रहे थे तो फैक्टरी के एक चौकीदार ने उन्हें देख लिया था। तब पिता ने उसे यह बोलकर भगा दिया था कि कुत्ता मर गया है, उसे जला रहे हैं। इस पर चौकीदार चला गया था। फिर नगर निगम के तीन कर्मचारियों से जले हुए स्थान पर कचरा डलवा दिया था। इसके बाद आग भी लगा दी थी।