Home खेलकूद सिडनी वनडे ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 34 रनों से हराया, रोहित शर्मा...

सिडनी वनडे ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 34 रनों से हराया, रोहित शर्मा के शानदार शतक पर फिरा पानी….

444
0
नईदिल्ली 12 जनवरी 2019। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच ने शनिवार (12 जनवरी) को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (SCG) पर खेले जा रहे पहले वनडे मैच में भारत के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ पहले वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट मैच में पांच विकेट पर 288 रन बनाए। झाए रिचर्डसन (4 विकेट) की बेहतरीन गेंदबाजी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने शनिवार को सिडनी में खेले गए पहले वन-डे में 34 रन से मात दी। इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। सीरीज का दूसरा वन-डे 15 जनवरी को एडिलेड में खेला जाएगा।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की और निर्धारित 50 ओवर मे पांच विकेट खोकर 288 रन बनाए। जवाब में टीम इंडिया ने 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 254 रन बना सकी। टीम इंडिया के हिटमैन रोहित शर्मा के शतक पर पानी फिरा।

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर 289 रन के चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत बेहद खराब रही। अपना पहला वन-डे खेल रहे जेसन बेहरनडोर्फ ने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर शिखर धवन को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। धवन पहली गेंद का सामना कर रहे थे। वह बिना खाता खोले आउट हुए।

झाए रिचर्डसन ने पारी के चौथे ओवर में टीम इंडिया को सबसे तगड़ा झटका दिया। उन्होंने कप्तान विराट कोहली को स्क्वायर लेग पर मार्कस स्टोइनिस के हाथों कैच आउट कराकर भारतीस टीम का दूसरा विकेट गिराया।

इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर रिचर्डसन ने अंबाती रायुडू को एलबीडब्ल्यू आउट करके टीम इंडिया पर दबाव बढ़ा दिया। रायुडू ने डीआरएस की मांग की, लेकिन उनकी अपील खारिज हो गई। रायुडू खाता भी नहीं खोल सके।

यहां से रोहित शर्मा और एमएस धोनी (51) ने चौथे विकेट के लिए 137 रन की साझेदारी करके टीम इंडिया की मैच में वापसी कराई। दोनों ने कोई जोखिम नहीं उठाया और धैर्य के साथ पारी आगे बढ़ाई।

इस दौरान रोहित शर्मा ने मैक्सवेल द्वारा किए पारी के 24वें ओवर की पांचवीं गेंद पर चौका जमाकर अपने वन-डे करियर का 38वां अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने 62 गेंदों में दो चौकों और तीन छक्कों की मदद से पचासा पूरा किया।

धोनी ने भी अपना अर्धशतक पूरा किया। मगर जेसन बेहरनडोर्फ ने उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट करके ऑस्ट्रेलिया को बड़ी सफलता दिलाई। धोनी ने 96 गेंदों में 3 चौके और 1 छक्के की मदद से पचासा पूरा किया। जल्द ही झाए रिचर्डसन ने ऑस्ट्रेलिया को दो सफलताएं और दिलाई। उन्होंने दिनेश कार्तिक (12) को क्लीन बोल्ड किया जबकि रवींद्र जडेजा (8) को मार्श के हाथों कैच आउट कराया।

रोहित ने एक छोर संभाले रखा और अपना शतक पूरा किया। उन्होंने रिचर्डसन द्वारा किए पारी के 40वें ओवर की पांचवीं गेंद पर दो रन लेकर अपने वन-डे करियर का 22वां शतक पूरा किया। उन्होंने 110 गेंदों में सात चौकों और चार छक्कों की मदद से सैकड़ा पूरा किया।

रोहित के चेहरे पर थकान नजर आ रही थी और इसका असर भी उन पर दिखा। 129 गेंदों में 10 चौके और 6 छक्के की मदद से 133 रन बनाने के बाद रोहित ने स्टोइनिस की गेंद पर मैक्सवेल को कैच थमा दिया।

इससे पहले पीटर हैंड्सकोंब (73) और उस्मान ख्वाजा (59) व शॉन मार्श (54) की दमदार पारियों की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया के सामने पहले वन-डे में 289 रन का लक्ष्य रखा है। सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया ने निर्धारित 50 ओवर में 5 विकेट खोकर 288 रन बनाए। मार्कस स्टोइनिस 47* और ग्लेन मैक्सवेल 11* रन बनाकर नाबाद रहे।

ऑस्ट्रेलिया के पहले बल्लेबाजी के फैसले को भुवनेश्वर कुमार ने गलत साबित किया। उन्होंने पारी के तीसरे ओवर में कप्तान आरोन फिंच (6) को क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके बाद एलेक्स कैरी ने उस्मान ख्वाजा (59) के साथ दूसरे विकेट के लिए 33 रन जोड़कर ऑस्ट्रेलियाई पारी को संभालने का प्रयास किया।

टीम इंडिया के चाइनामैन कुलदीप यादव ने कैरी को रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट कराकर इस साझेदारी को तोड़ा और मेजबान टीम को दूसरा झटका दिया। यहां से ख्वाजा को मार्श का साथ मिला और दोनों ऑस्ट्रेलियाई पारी को संभालने में जुट गए।

ख्वाजा-मार्श ने तीसरे विकेट के लिए 92 रन की साझेदारी की। इस बीच ख्वाजा ने खलील अहमद द्वारा किए पारी के 26वें ओवर की दूसरी गेंद पर एक रन लेकर अपने वन-डे करियर का पांचवां अर्धशतक पूरा किया। रवींद्र जडेजा ने ख्वाजा को एलबीडब्ल्यू आउट करके इस साझेदारी को तोड़ा।

इसके बाद शॉन मार्श को पीटर हैंड्सकोंब के रूप में अच्छा साथी मिला। दोनों ने चौथे विकेट के लिए तेजी से 53 रन जोड़े और विशाल स्कोर की नीव रखी।

मार्श ने इस बीच खलील अहमद द्वारा किए पारी के 36वें ओवर की दूसरी गेंद पर चौका जमाकर अपने टेस्ट करियर का 13वां अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने 65 गेंदों में चार चौकों की मदद से पचासा पूरा किया।

हालांकि, वह लंबी पारी खेलने में कामयाब नहीं हुए और कुलदीप यादव की गेंद पर मोहम्मद शमी को लांग ऑन पर कैच थमाकर पवेलियन लौट गए। यह कहना गलत नहीं होगा कि मार्श ने लापहरवाही भरा शॉट खेलकर अपने विकेट गंवाया।

फिर हैंड्सकोंब ने मार्कस स्टोइनिस के साथ पांचवें विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी की और ऑस्ट्रेलिया को 250 रन के पार लगाया। हैंड्सकोंब ने 64 गेंदों में छह चौकों और दो छक्कों की मदद से 73 रन की उम्दा पारी खेली। भुवनेश्वर कुमार ने स्वीपर कवर पर धवन के हाथों कैच कराकर हैंड्सकोंब की पारी का अंत किया।

टीम इंडिया की तरफ से भुवनेश्वर कुमार और कुलदीप यादव को दो-दो विकेट मिले। रवींद्र जडेजा के हाथ एक सफलता लगी।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने शनिवार को सिडनी में खेले जा रहे पहले वन-डे में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया है।

ऑस्ट्रेलिया ने अपनी अंतिम एकादश का एलान शुक्रवार को ही कर दिया था। जेसन बेहरनडोर्फ ऑस्ट्रेलिया की तरफ से डेब्यू कर रहे हैं। वहीं टीम इंडिया ने दो स्पिनरों पर भरोसा जताया है। रवींद्र जडेजा की वापसी हुई है। मिडिल ऑर्डर की जिम्मेदारी अंबाती रायुडू के साथ दिनेश कार्तिक के कंधों पर सौंपी है।