Home Uncategorized कोयला लोडिंग चर्चित घोटाले में डिप्टी जीएम सहित 7 पर FIR दर्ज…....

कोयला लोडिंग चर्चित घोटाले में डिप्टी जीएम सहित 7 पर FIR दर्ज…. RTI के आधार विजय कुमार ने दायर की थी याचिका…..लाखों का हुआ था गोलमाल

138
0

कोरबा 11 जनवरी 2018। कोयला की अफरा तफरी के लिए चर्चित SECL कोरबा की मानिकपर खदान के 5 अफसरों सहित 2 कोल लिफ्टरो के खिलाफ CJM कोर्ट में पुलिस को FIR का आदेश दिये हैं। मामला 2016 का है जब SECL की मानिकपर खदान से ऑक्सन में कोयला लेने के बाद बालको ने कोयला लोडिंग के लिए लोडर क्रमांक CG 04 DM 8945 जो की ट्रेक्टर का नंबर था, उसी कूटरचित फर्जी पंजीयन व बीमा के कागजात के आधार पर खदान में लोडर को कोयला लोडिंग की अनुमति ले ली गई थी। इस पूरे फर्जीवाड़े में जाली व कूटरचित दस्तावेजो की जानकारी होने के बाद भी SECL की मानिकपुर खदान में कई बार लोडर को फर्जी ट्रेक्टर के पंजीयन नंबर के आधार पर खदान में चलने की अनुमति दी गई।

RTI से हुए इस खुलासे के बाद मामले की शिकायत पुलिस में भी की गई, लेकिन पुलिस विभाग प्रमाणित दस्तावेजो के होने के बावजूद अपराध दर्ज न कर SECL व बालको के भ्रष्ट अफसरों को संरक्षण देने में लगे रहे। लिहाजा मामले में अपराध दर्ज नही होने पर विजय कुमार ने अधिवक्ता अनुराग मोहितनात के जरिये CJM न्यायालय में 156(3) के तहत परिवाद दायर किया गया। और इस फर्जीवाड़े के प्रकरण में न्यायालय ने SECL मानिकपर के डिप्टी जी.एम. इंद्रजीत सिंह सहित, कोलियरी मैनेजर मनोज कुमार, नोडल ऑफिसर मनीष सिंह, के.प्रभाकर, चीफ मैनेजर एक्सवेसन के.एम. प्रसाद सहित 2 कोल लिफ्टरो के खिलाफ धारा 420, 467,468,471,34 के तहत अपराध दर्ज करने का आदेश दिया है।

इस पूरे प्रकरण में आने वाले वक्त में फर्जी नंबर पर खदान में लोडर के संचालन के अनुमति देने वाले अफसरों में SECL KORBA एरिया के तत्कालीन CGM एस.के.पाल सहित बालको के जवाबदार अफसरों के खिलाफ भी कानूनी जांच की आंच आने के साथ ही अपराध दर्ज होने की पूरी संभावना है।