Home ब्यूरोक्रेट्स Watch Video एडिश्नल एसपी की बर्बरता : स्ट्रांग रूम परिसर में टावर...

Watch Video एडिश्नल एसपी की बर्बरता : स्ट्रांग रूम परिसर में टावर सुधारने गये जियोकर्मियों को तालिबानी अंदाज में दी सजा… सिर पर कुर्सी से मारा.. जियोकर्मी को अस्पताल में कराया गया भर्ती

3539
0

जगदलपुर 7 दिसंबर 2018। कमाल करते हैं एडिश्नल साहब !…बस्तर ही है ना, ये तालिबान थोड़े ना है…..कि भरी भीड़ में खुद ही इंसाफ करने जुट गये। ASP साहब संजय महादेवा साहब आपकी इस बर्बरता देख हम तो सहम गये…यकीन मानिये जो भी आपका ये कृत्य कोई देखेगा वो वाकई में सहम उठेगा। टावर पर ही तो चढ़ा था नो वो, कोई कत्ल थोड़े कर आया था… जो खुद ही सजा देने कुर्सी से तुनक कर खड़े हो गये और कुर्सी से ही मारना शुरू कर दिया।

नीचे दिये वीडियो को जरा ध्यान से देखिये, हो सकता है आपको ये वीडियो सामान्य दिखेगा, शायद ये भी लगेगा कि एडिश्नल साहब ने तो मारा ही नहीं है, लेकिन जरा नजरें गड़ाकर देखियेगा, ना तो सबकुछ स्पष्ट हो जायेगा। कि कैसे एडिश्नल साहब कुर्सी से उठ रहे हैं और फिर सामने रखे कुर्सी से जियोकर्मी के सर पर मारा है।

अब ये वर्दी की गरमी थी या फिर सामने मौजूद कांग्रेसियों को अपना रूतबा दिखाने का शौक…लेकिन जो कुछ हुआ, उसने बस्तर की खाकी वर्दी को एक बार फिर सवालों के घेरे में तो खड़ा कर ही दिया है। फिलहाल कुर्सी से मार खाये जियो कंपनी के कर्मचारी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और एडिश्नल साहब ठाठ से घूम रहे हैं।

पूरा मामला कल रात स्ट्रांग रूम परिसर में दो जियो कंपनी के कर्मचारी के पकड़े जाने का है। दरअसल बस्तर के महिला पॉलिटेक्निक में स्ट्रांग रूम बनाया गया है, उसी परिसर में जियो कंपनी का टावर भी है। तकनीकी दिक्कत की वजह से जियो कंपनी के दो कर्मचारी बिना किसी की इजाजत लिये टावर पर लैपटॉप सहित सुधार कार्य के लिए पहुंचे, तभी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने उन्हें पकड़ लिया।

हो हंगामा इतना मचा कि पुलिस मौके पर पहुंची और फिर दोनों कर्मचारियों को पकड़कर पुलिस थाने ले गयी। दोनों की पेशी एडिश्नल एसपी संजय महादेवा के सामने करायी गयी है। पूरा थाना खचाखच भरा था, कांग्रेसी से लेकर पुलिस के सारे स्टाफ वहां मौजूद थे, ….और उनके बीच अपना रुतबा झाड़ने के चक्कर में एडिशनल एसपी महादेवा अपनी कुर्सी से उठे और उस जियो कर्मचारी के सर पर कुर्सी उठाकर मारना शुरू कर दिया।

भद्दी-भद्दी गालियां दी … हद तो तब हो गयी, कुर्सी से मारने के बाद एडिश्नल एसपी ने अपने अन्य स्टाफ से भी उन जियो के कर्मचारी को पिटवाया और फिर उन्हें जानवरों की तरह अपने चैंबर से बाहर निकलवा दिया। कुर्सी सर पर पड़ने की वजह से देर रात जियो कंपनी के कर्मचारी की तबीयत बिगड़ गयी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इधर इस पूरी घटना के बाद बस्तर के पुलिस अधिकारियों को मानों सांप सूंघ गया है। पुलिस अफसर या तो पूरे मामले से पल्ला झाड़ते नजर आ रहे हैं या फिर पूरी घटना को ही झूठलाने में जूट गये हैं। लेकिन साहब तस्वीरें झूठ नहीं बोलती….क्या नासमझी में हुई कोई गलती की सजा इस बर्बरता से देना एडिश्नल साहब आपको शोभा देता है।