Home खेलकूद इस खिलाड़ी ने तोड़ा रणजी ट्रॉफी के इतिहास का सबसे बड़ा रिकॉर्ड….

इस खिलाड़ी ने तोड़ा रणजी ट्रॉफी के इतिहास का सबसे बड़ा रिकॉर्ड….

45
0

नईदिल्ली 6 दिसंबर 2018. अनुभवी बल्‍लेबाज पुडुचेरी ने पारस डोगरा ने गुरुवार को रणजी ट्रॉफी में इतिहास में अपना नाम दर्ज करवा दिया. पारस 253 ने प्‍लेट ग्रुप में सिक्किम के खिलाफ मुकाबले के पहले दिन दोहरा शतक जड़ा और इस दोहरे शतक के साथ ही उन्‍होंने अजय शर्मा के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया है. पारस रणजी ट्रॉफी के इतिहास में सबसे ज्‍यादा दोहरे शतक लगाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं. 34 साल के पारस का यह 8वां दोहरा शतक था. इससे पहले यह रिकॉर्ड अजय शर्मा के नाम था, जिन्‍होंने सात बार दोहरा शतक जड़ा था. पारस के दोहरे शतक के दम पर पुडुचेरी ने चार पहले दिन का खेल समाप्‍त होने तक चार विकेट के नुकसान पर 418 रन बना लिए हैं. पारस ने 244 गेंदों पर 30 चौके और सात छक्‍के लगाकर 253 रन की पारी खेली और इसके बाद बिपुल शर्मा की गेंद पर बोल्‍ड हो गए.

पारस ने 2001 में हिमाचल की ओर से फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट में कदम रखा था और नवंबर 2015 में इन्‍होंने रणजी ट्रॉफी में सात दोहरे शतक के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली थी. रणजी ट्रॉफी के इस सीजन ये पहले पारस हिमाचल से पुडुचेरी की टीम में आ गए और यहां पर रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्‍यादा दोहरे शतक लगाने का रिकॉर्ड तोड़ा. पारस रणजी ट्रॉफी में पुडुचेरी की ओर से शतक लगाने वाले पहले बल्‍लेबाज भी हैं. इन्‍होंने यह कीर्तिमान नवंबर में मेघालय के खिलाफ रचा था.