Home ब्यूरोक्रेट्स रायपुर दक्षिण और पश्चिम में 3-3 मशीनों से होगा मतदान….उत्तर, धरसींवा और...

रायपुर दक्षिण और पश्चिम में 3-3 मशीनों से होगा मतदान….उत्तर, धरसींवा और आरंग में लगेंगे 2-2 वोटिंग यूनिट…. प्रत्याशी ज्यादा होने से 2235 एक्स्ट्रा बैलेट यूनिटों की जरूरत

613
0
रायपुर, 08 नवंबर 2018 । रायपुर जिले की 6 विधानसभा क्षेत्रों में प्रत्याशियों की संख्या अधिक होने के कारण चुनाव हेतु बैलेट यूनिटों की आवश्यकता बढ़ गई है। अभनपुर में 12 प्रत्याशी होने के कारण इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में एक ही बैलेट यूनिट की जरूरत होगी। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर डॉ. बसवराजु एस. ने बताया कि अब जिले की 7 विधानसभाओं में चुनाव हेतु रिजर्व बैलेट यूनिटों सहित कुल 4164 बैलेट यूनिट की जरुरत है। विधानसभा क्षेत्र अभनपुर में 12 प्रत्याशी होने के कारण ईवीएम के साथ केवल एक बैलेट यूनिट लगेगी। जबकि धरसींवा, रायपुर नगर ग्रामीण, रायपुर नगर उत्तर, तथा आरंग विधानसभा में 2-2 बैलेट यूनिटों की आवश्यकता है तथा रायपुर नगर पश्चिम तथा रायपुर नगर दक्षिण में क्रमशः 37 व 46 प्रत्याशी होने के कारण 3-3 बैलेट यूनिटों की जरूरत है।
डॉ. बसवराजु एस. ने बताया 4 विधानसभा क्षेत्रों रायपुर नगर ग्रामीण, रायपुर नगर पश्चिम, रायपुर नगर दक्षिण और आरंग विधानसभा के लिए आवश्यक बैलेट यूनिट के लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से 2235 अतिरिक्त बैलेट यूनिट की मांग की गई है. इन बैलेट यूनिटों के आने बाद पहले फर्स्ट लेबल चेकिंग फिर पहले स्तर पर विधानसभा क्षेत्रवार आवंटन के लिए रेण्डमाइजेशन किया जाएगा। इसके बाद इसे मतदान केन्द्र को आवंटन के लिए व्दितीय स्तर पर रेण्डमाइजेशन किया जाएगा।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि वर्तमान में जिले की 7 विधानसभा हेतु हर मतदान केन्द्र हेतु एक बैलेट यूनिट तथा रिजर्व हेतु 10 प्रतिशत अतिरिक्त के मान से कुल 1929 बैलेट यूनिटें उपलब्ध है जिसका रेण्डमाइजेशन कर उसे विधानसभा वार आवंटित कर दिया गया है। चूंकि प्रत्याशियों की संख्या बढ़ने के कारण अब बैलेट यूनिट की आवश्यकता बढ़ गई है इसलिए पूर्व से उपलब्ध अतिरिक्त बैलेट यूनिटों की आज रेडक्रास भवन में राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में रेण्डमाइजेशन कर धरसीवां और रायपुर नगर उत्तर विधानसभा के लिए बैलेट यूनिटों का आवंटन कर दिया गया है। बची हुई विधानसभाओं के लिए हैदराबाद से बैलेट यूनिट आने के बाद उसे विधानसभा वार तथा मतदान केन्द्रवार आवंटन के लिए रेण्डमाईजेशन किया जाएगा.