Home Exclusive IAS चौहान की छुट्टी से अफसर सकते में, एलईडी खरीदी में गड़बड़ी...

IAS चौहान की छुट्टी से अफसर सकते में, एलईडी खरीदी में गड़बड़ी रोकना महंगा प़ड़ गया…?

2285
0

भिलाई, 16 सितंबर 2018। भिलाई नगर निगम के आईएएस कमिश्नर केएल चौहान की आज छुट्टी हो गई। उन्हें दुर्ग का अपर कलेक्टर बनाया गया है। उनके हटाए जाने की वजह यूं तो डेंगू बताई जा रही है, लेकिन अंदर की वजह चौहान की ईमानदारी बताई जा रही है।
बताते हैं, भिलाई शहर में साढ़े तीन करोड़ की एलईडी लगाने की योजना थी। इसके लिए कुछ कंपनियों ने टेंडर भरा था। लेकिन, जिस कंपनी के लिए कुछ राजनीतिज्ञ जोर लगा रहे थे, वो टेंडर की अहर्ता पूरी नहीं कर रही थी। चौहान भी उस कंपनी को काम देने के लिए तैयार नहीं थे। एमआईसी में काफी प्रयास करने के बाद भी उस टेंडर की अनुमति नहीं मिल पाई। इसका ठीकरा चौहान पर फूटा।
हालांकि, बताते हैं सरकार भी कमिश्नर को हटाने के पक्ष में नहीं थी। लेकिन, चुनाव सिर पर होने के कारण जाहिर है, सरकार भी राजनीतिज्ञों के प्रेशर में जल्दी आ जाती है। लिहाजा, आज रविवार होने के बाद भी कमिश्नर की छुट्टी का आर्डर निकाल दिया गया।
बताते हैं, एलईडी सप्लाई में 20 फीसदी कमीशन मिलता है। देश में कोई भी सरकार हो, एलईडी कंपनियों का ये फीक्स्ड रेट है। साढ़े तीन करोड़ में 70 लाख का सवाल था। उपर से कमिश्नर ने साफ तौर पर मना कर दिया था, ये मुझसे नहीं होगा। इसकी कीमत उन्हें चुकानी पड़ी।
चौहान राज्य प्रशासनिक सेवा से आईएएस में आए हैं। राप्रसे में उनका 96 बैच और आईएएस में 2009 बैच है। उनका स्वभाव अक्खर वाला है। मगर ईमानदार अफसर के रूप में जाने जाते हैं। ऐसे अफसर को हटाने से अफसरशाही भी हतप्रभ है।