Home खेलकूद इंग्लैंड ने जीता तीसरा वनडे, भारत ने 2-1 से गंवाई सीरीज

इंग्लैंड ने जीता तीसरा वनडे, भारत ने 2-1 से गंवाई सीरीज

210
0

लीड्स 18 जुलाई 2018।   इंग्लैंड ने जो रूट के शानदार शतक की बदौलत तीसरा वनडे मैच जीतकर सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लिया। मंगलवार को हेडिंग्ले क्रिकेट ग्राउंड में खेले गए निर्णायक मुकाबले में इंग्लैंड ने भारत को 8 विकेट से मात दी। इससे पहले तीन वनडे मैच की सीरीज का दोनों एक-एक मुकाबला जीतकर दोनों टीमें बराबरी पर थीं। अंतिम मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने निर्धारत 50 ओवर में 8 विकेट खोकर सिर्फ 256 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम की टीम के लिए यह स्कोर बेहद मामूली साबित हुआ। इंग्लैंड ने 44.3 ओवर में सिर्फ 2 विकेट के नुकसान पर 260 रन बनाकर मैच और सीरीज अपने नाम कर ली है।

इंग्लैंड ने  88 गेंदों में बनाए 100 रन
भारत के मुकाबले में इंग्लैंड ने पहले पॉवर प्ले में बेहतरीन बल्लेबजी की। इंग्लैंड ने पॉवर प्ले में 78 रन बनाए वहीं भारत ने महज 32 रन ही जोड़े थे। हालांकि, इस दौरान भारत का सिर्फ एक विकेट गिरा जब इंग्लैंड ने अपने दो खिलाड़ी विकेट गंवा दिए।

जेम्स विन्स रन आउट होकर पवेलियन लौटे
इंग्लैंड का दूसरा झटका 10वें ओवर में लगा। सलामी बल्लेबाज जेम्स विन्स रन आउट हो कर पवेलियन लौट गए। उन्होंने 27 गेंदों में 27 रन बनाए। विन्स ने अपनी पारी में 5 चौके जड़े। विन्स को महेंद्र सिंह धोनी ने रन आउट किया। धोनी ने हार्दिक पंड्या की थ्रो पर गजब की फुर्ती दिखाई और गिरते हुए विन्स को रन आउट किया।

​इंग्लैंड की ताबड़तोड़ शुरुआत
टार्गेट चेज करने उतरी इंग्लैंड की टीम ने धमाकेधार शुरुआत की। पहले विकेट के लिए जॉनी बेयर्सटो और जेम्स वाइन्स ने ताबड़ोतड़ 43 रन जोड़े। इस साझेदारी को 5वें ओवर की चौथी गेंद पर शार्दुल ठाकुर ने तोड़ा। बेयर्सटो ने 13 गेंदों में आतिशी बल्लेबाजी करते हुए 7 चौकों की मदद से 30 रन बनाए। इंग्लैंड ने अपने आक्रामक तेवर भारत की ओर से गेंदबाजी की कमान संभालने वाले भुवनेश्वर की पहली गेंद पर चौका जड़कर ही जता दिए थे।

धोनी ने खेली 43 रन की धैर्यपूर्ण पारी
भारत को सातवां झटका 46वें ओवर में लगा। टिककर बल्लेबाजी कर रहे महेंद्रे सिंध धोनी मार्क वुड की गेंद पर आउट हो गए। धोनी ने काफी धैर्यपूर्ण पारी खेली। उन्होंने 67 गेंदों में 4 चौकों की मदद से 43 रन की पारी खेली। धोनी ने इस दौरान तीन छोटी-छोटी अहम साझेदारियां कीं। उन्होंने विराट कोहली के साथ 31, हार्दिक पंड्या के साथ 36 और फिर भुवनेश्वर कुमार के साथ 27 रन जोड़े।

42वें ओवर में पूरे हुए भारत के 200 रन
नियमित अंतराल पर खिलाड़ियों के आउट होने का असर भारतीय टीम पर साफ दिखा। भारत ने शुरुआती 50 रन 12.5 ओवर बनाए लेकिन इसके बाद बल्लेबाजों ने रफ्तार पकड़ी और 100 रन 19.5 में पूरे कर लिए। हालांकि, अगले 100 यानी 200 के स्कोर तक पहुंचने में भारत को करीब 22 ओवर लग गए। इस दौरान भारत की रफ्तार बेहद धीमे रही। भारत ने 200 रन 41.2 ओवर में जाकर पूरे किए।

नहीं चला सुरैश रैना का बल्ला
विराट कोहली के आउट होने के बाद बल्लेबाजी के लिए सुरेश रैना महज 1 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। पिछले मैच में 46 रन की पारी खेलने वाले रैना का निर्णायक मुकाबले में बल्ला नहीं चला। आदिल राशिद ने 31वें की आखिरी गेंद पर उनका शिकार किया। रैना को दूसरे वनडे में भी राशिद ने ही आउट किया था।

विराट कोहली 71 रन बनाकर हुए बोल्ड
भारत को चौथा झटका कप्तान विराट कोहली के रूप में लगा। कोहली 71 रन की पारी खेल कर आउट हुए। उन्होंने अपनी पारी में 8 बेहतरीन चौके जड़े। कोहली 31वें ओवर में आदिल राशिद की गेंद को बिलकुल नहीं भांप और क्लीन बोल्ड हो गए। कोहली भले ही शतक नहीं बना पाए लेकिन उन्होंने दबाव में बेहतरीन बल्लेबजी करते हुए अपनी फिफ्टी पूरी की। यह उनके वनडे करियर 48वीं फिफ्टी थी। कोहली ने 55 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। इस दौरान उन्होंने 6 चौके जड़े। कोहली जब 48 रन पर थे तो उन्होंने चौका जड़कर अर्धशतक पूरा किया।

दिनेश कार्तिक जल्दी पवेलियन लौटे
भारत को दिनेश कार्तिक से तीसरे वनडे में एक बड़ी पारी की उम्मीद थी लेकिन वह जल्दी पवेलियन लौट गए। कार्तिक को लोकेश राहुल की जगह मौका दिया गया था। उन्होंने 22 गेंदों में 3 चौकों की मदद से सिर्फ 21 रन बनाए। कार्तिक 25वें ओवर में गेंदबाजी के लिए आए आदिल राशिद की गेंद को समझ नहीं पाए और बोल्ड हो गए।

अर्धशतक बनाने से चूके शिखर धवन
सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने दूसरे विकेट के लिए विराट कोहली के साथ 71 रन की साझेदारी की। इस पार्टनरशिप की बदौलत भारत शुरुआती झटके से उबर में काफी हद तक सफल रहा। यह साझेदारी धवन 18वें ओवर में आउट होने के बाद टूटी। धवन रन लेने की जल्दबाजी में विकेट गंवा बैठे और अपना अर्धशतक बनाने से भी चूक गए। उन्हें बेन स्टोक्स ने शानदार थ्रो कर रन आउट किया। धवन ने 49 गेंदों में 7 चौकों की मदद से 44 रन की पारी खेली। शुरू में थोड़ा स्लो खेलने वाले धवन ने बीच-बीच में आक्रामक रुख अपनाया।

पॉवर प्ले में इंग्लैंड की शानदार गेंदबाजी
इंग्लैंड के गेंदबाजों ने पहले पॉवर प्ले में शानदार गेंदबाजी की। मार्क वुड और डेविड विली अपनी खतरनाक गेंदों से भारतीय बल्लेबाजों पर दबाव बनाने में कामयाब रहे। इस दौरान भारत ने भारत ने भले ही एक विकेट गंवाया लेकिन गेंदबाजों ने उन्हें हाथ खोलने का कोई मौका नहीं दिया। भारत ने पॉवर प्ले में 1 विकेट गंवाकर सिर्फ 32 रन बनाए।

रोहित शर्मा ने 2 रन बनाने के लिए खेली 18 गेंदें
रोहित शर्मा शुरू से ही अपनी लय में नजर नहीं आए। वह मार्क वुड की गेंदों के आगे बेबस दिखे। वुड ने उन्हें 2 ओवर मेडल डाले। रोहित आखिर छठे ओवर में डेविड विली की गेंद पर मार्क वुड को कैच थमाकर पवेलिया लौट गए। रोहित ने महज 2 रन बनाए और जिसके लिए उन्होंने 18 गेंदें खेलीं।

भारती की धीमी शुरुआत
भारत की ओर से पारी का आगाज करने रोहति शर्मा और शिखर धनव आए। इंग्लैंड की ओर से गेंदबाजी की कमान मार्क वुड ने संभाली। वुड ने शानदार गेंदबाजी करने हुए मैच का पहला ओवर मेडल डाला। रोहित वुड की खतरनाक तरीके से स्विंग होती गेंदों पर कोई रन नहीं बना पाए।। इसके बाद अगले ओवर में सिर्फ तीन रन आए।

हालांकि, तीसरे ओवर में धवन ने दो चौके जड़कर दबाव कम करने की कोशिश जरूर की लेकिन चौथे ओवर में डेविड ने सिर्फ एक रन दिया। पांचवें ओवर मार्क वुड ने एक बार फिर मेडल डाला और इस बार भी क्रीज पर रोहित शर्मा थे। भारत ने शुरुआती 5 ओवरों में महज 12 रन बनाए।

भारत ने अंतिम एकादश में किए तीन बदलाव
भारत ने अंतिम एकादश में तीन बदलाव किए हैं। भारत ने सिद्धार्थ कौल, उमेश यादव और लोकेश राहुल, की जगह शार्दूल ठाकुर, भुवनेश्वर कुमार और दिनेश कार्तिक को मौका दिया है। दिनेश कार्तिक को तकरीबन आठ महीने बाद वनडे टीम में जगह मिली है। उन्होंने आखिरी बार वनडे पिछले साल दिसंबर में श्रीलंका के खिलाफ खेला था।  वहीं, इंग्लैंड ने अपनी टीम में एक बदलाव किया। इंग्लैंड ने जेसन रॉय के स्थान पर जेम्स विंसे को टीम में शामिल किया।