Home राजनीति वेतनवृद्धि, निम्न से उच्च सेवागणना व ई-कोष में एंट्री सबंधी गतिरोध हुए...

वेतनवृद्धि, निम्न से उच्च सेवागणना व ई-कोष में एंट्री सबंधी गतिरोध हुए दूर…संविलियन की समस्याओं और संदेहों पर शालेय शिक्षाकर्मी संघ ने की अधिकारियों से मुलाकात

1411
0
रायपुर 11 जुलाई 2018। अपर मुख्य सचिव और शिक्षा सचिव के द्वारा संविलियन पर दो वीडियो कांफ्रेंसिंग के बाद भी संविलियन को लेकर सवाल सुलझे नहीं है। पेचदगियां तब और बढ़ गयी है, जब हर जिले के अधिकारी अलग-अलग प्रक्रियाओं और निर्देश जारी कर रहे हैं। शिक्षाकर्मियों में बढ़ी आशंका के मद्देनजर आज शालेय शिक्षाकर्मी संघ के प्रदेशाध्यक्ष और मोर्चा के प्रदेश संचालक वीरेंद्र दुबे और महासचिव धर्मेश शर्मा ने  लोक शिक्षण संचालनालय,कोष एवं लेखा, पँचायत संचालनालय में अधिकारियों से चर्चा की और समस्याओं से अवगत कराया।
इन सभी से चर्चा उपरांत जो निष्कर्ष निकला उसे जानकारी देते हुए वीरेंद्र दुबे ने बताया कि-
1 *ई-कोष और CPS शिफ्टिंग-* इन दोनों कार्यो के सरलीकृत करते हुए राज्य ने प्रदेश स्तर पर CPS शिफ्टिंग का कार्य प्रारम्भ कर दिया है,अब ई कोष में प्रान नम्बर की एंट्री करने से सबंधित शिक्षक की अधिकांश जानकारी अपने आप ई कोष पोर्टल में दिखना प्रारम्भ हो गया है। जिन शिक्षकों के प्रान एकाउंट नहीं खुल पाया है केवल उनको ही  CPS फार्म भरना पड़ेगा।
2⃣ *वेतन वृद्धि-* 1जुलाई 2018 को एक इंक्रीमेंट जोड़कर ही सातवाँ वेतनमान की गणना की जावेगी। इसमे कोई संशय नहीं है।
3⃣ *निम्न पद से उच्च पद सेवागणना-* निम्न से उच्चपद की सेवागणना कर संविलियन किया जाएगा।
4⃣ *वरिष्ठता-* पदोन्नति प्राप्त समस्त शिक्षकों का संविलियन प्रथम नियुक्ति से तथा वरिष्ठता पदोन्नति दिनांक से तय होगी इसी तरह स्थानांतरण वाले शिक्षकों का संविलियन प्रथम नियुक्ति से तथा वरिष्ठता स्थानांतरण दिनांक से गिना जाएगा।
5⃣ *LPC (अंतिम वेतन गणना पत्रक)-* DPI,कोष एवं लेखा ने स्पष्ट किया है कि  ऑनलाइन LPC ही मान्य होगा।इसमे DNI(आगामी वेतन वृद्धि दिनांक) 1 जुलाई 2018 अवश्य इंद्राज करावें।
प्रान्तीय महासचिव धर्मेश शर्मा ने कहा कि- यदि किसी जगह इन नियमो का पालन नही किया जा रहा हो अथवा अपने मन से कोई अवधारणा बना ली गई हो तो समस्त पदाधिकारी उन स्थानों के जिला शिक्षाधिकारी/सी ई ओ को अपने अपने विभाग के डायरेक्टर से सम्पर्क कर मार्गदर्शन लेने हेतु जरूर बोले। उन्हें राज्य संचालनालय द्वारा उचित मार्गदर्शन प्रदान किया जावेगा।
प्रदेश मीडिया प्रभारी जितेन्द्र शर्मा ने कहा कि- मोर्चा प्रत्येक समस्याओं पर पैनी नजर बनाए हुए है और संविलियन कार्य मे किसी भी प्रकार आ रही दिक्कतों के तत्काल समाधान हेतु प्रयासरत है। ऐसे ही किसी तरह की अन्य समस्याये हो तो हमारी जानकारी में अवश्य लाये ताकि उनका निराकरण किया जा सके।