Home विविध ‘संविलियन और सीनियरिटी का मध्यप्रदेश में अध्ययन कर लौटी टीम अपनी रिपोर्ट...

‘संविलियन और सीनियरिटी का मध्यप्रदेश में अध्ययन कर लौटी टीम अपनी रिपोर्ट सार्वजनिक करे”… वीरेंद्र दुबे ने पूछा- अब संविलियन में देर क्यों ?

1719
0

रायपुर 15 मई 2018। राजस्थान और मप्र में शिक्षाकर्मियों के मुद्दे पर अध्ययन कर टीमें लौट चुकी है, लिहाजा शिक्षाकर्मी संगठन अब रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग करने लगे हैं। शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा के प्रांतीय संचालक वीरेन्द्र दुबे के कहा कि- “अब सभी जगह के दौरे समाप्त हो गए, हाई पावर कमेटी का कार्यकाल भी दो बार बढाने के बाद वह भी समाप्त हो गए हैं,मोर्चा सहित समस्त संगठन प्रमुखों से मुख्यसचिव महोदय की 2 दौर की बैठक भी सम्पन्न हो चुकी है। अब कोई कारण नही बचता जिससे संविलियन करने में विलम्ब हो..!! अतः हाई पावर कमेटी समस्त दौरों की रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपने के साथ साथ सार्वजनिक भी करे ताकि पूरे प्रदेश को यह ज्ञात हो सके कि शिक्षाकर्मियों के संविलियन में कोई भी तत्व बाधक नही है। मुख्यमंत्री जी बार बार कमेटी का उल्लेख करते हैं, अब कमेटी अपने सारे काम समाप्त कर चुकी है अतः मुख्यमंत्री जी प्रदेश के समस्त शिक्षाकर्मियों का अविलम्ब संविलियन आदेश जारी करे।”

आपको बता दें कि लगातार शासन द्वारा टालमटोल किये जाने पर प्रदेश के शिक्षाकर्मियों ने 11 मई को राजधानी में महापंचायत में किया,  जिसमें हजारों शिक्षाकर्मियों ने अपना आक्रोश व्यक्त किया और 26 मई को फिर से संविलियन संकल्प दिवस मनाने का निर्णय लिया जिसके अंतर्गत प्रदेश के 90 विधानसभा क्षेत्रों में संविलियनगड़ी, सेल्फी विद फैमिली, विडियो बनाओ-दुखड़ा सुनाओ, दीवार लेखन जैसे नवप्रयोगो के माध्यम से शिक्षाकर्मी अपने संविलियन की मांग को मुखर कर रहे हैं।

“सेल्फी विद कम्युनिटी” के जरिये आज मोर्चा के द्वारा प्रदेश के मितानिनों का समर्थन प्राप्त किया गया। इस मुहिम के अंतर्गत शिक्षाकर्मी अपने आसपास के समस्त सामाजिक संगठनों, कर्मचारी संगठनों, संस्थाओं,वाहिनी, नवयुवक दलों से सम्पर्क कर अपनी वर्षो की मांग संविलियन की जानकारी देंगे और मताधिकार के प्रयोग के लिए जागरूकता लाने का प्रयास करेंगे। “सेल्फी विद कम्युनिटी” से शिक्षाकर्मियों को व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है।

शिक्षक पँ ननि मोर्चा के प्रांतीय उपसंचालक धर्मेश शर्मा, सांत्वना ठाकुर, चंद्रशेखर तिवारी और जितेन्द्र शर्मा ने आगामी रणनीतियों का खुलासा करते हुए बताया कि- सेल्फी विद कम्युनिटी के साथ साथ “गुरुदक्षिणा” की मुहिम भी चलाई जावेगी जिसमे हमारे भूतपूर्व छात्र और वर्तमान छात्र सम्मलित होंगे। हमारे छात्र-छात्राएं हमारी समस्याओं से अवगत हैं, वही प्रदेश की भावी पीढ़ी भी है, हमारी संविलियन की लड़ाई ना केवल हम शिक्षाकर्मियों की है अपितु इन युवाओं की भी है, संविलियन से फिर सभी नियमित पदों पर भर्तियां होंगी,अस्थाई और कर्मी व्यवस्था समाप्त होगी। हमारे छात्र हमसे लगाव रखते हैं वो “गुरुदक्षिणा” मुहिम के जरिये शासन से अपील करेंगे कि शिक्षाकर्मियों की समस्याओं का स्थायी और समग्र समाधान हो , संविलियन हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × two =