गवाहों का बयान देखना न्यायालय का काम, मुझे न्यायालय पर भरोसा है-रमन

रायपुर, 13 सितंबर 2019। प्रदेश के बहुचर्चित नान घोटाले में प्रमुख आरोपी शिवशंकर भट्ट द्वारा शपथ पत्र में पूर्व मुख्यमंत्री डा0 रमन सिंह, उनके परिजनों और कई अधिकारियों पर लगाए गए गंभीर आरोपों पर रमन सिंह ने आज शाम कहा कि गवाहों का बयान देखना न्यायालय का काम है। उन्हें न्यायालय पर भरोसा है।

रमन सिंह ने नागरिक आपूर्ति निगम के कथित घोटाले में शुक्रवार को आए शिवशंकर भट्ट के शपथपत्र पर नपीतुली प्रतिक्रिया दी. उन्होंने पत्रकारों से चर्चा करते हुए  कहा कि नागरिक आपूर्ति निगम का प्रकरण न्यायालय में है. इस मामले में जितने भी गवाह है, सभी गवाहों ने पहले इस मामले में अपना बयान दर्ज करा चुके है. उस समय उनके बयान क्या थे? यह न्यायालय के समक्ष है.उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस सरकार आने के बाद जिस तरह इस प्रकरण से जुड़े गवाह अपने बयान बदल रहे हैं. यह सभी गवाह अपने बयान क्यों बदल रहे हैं? यह राज्य की जनता को सबकुछ समझ आ रहा है, मुझे भी यह समझ आ रहा है और न्यायालय को भी समझ आ रहा है. गवाहों के पूर्व और आज के बयान को देखना न्यायालय का काम है.
डॉ. रमन सिंह ने कहा कि इस मामले में शिवशंकर भट्ट का 164 के तहत बयान दर्ज नहीं लिया गया, इसलिएउनसे शपथपत्र लेकर इसे राजनीतिक रंग दिया जा रहा है, क्योंकि न्यायालय में इस मामले का अंतिम प्रतिवेदन प्रस्तुत हो चुका है और विचरण जारी है. आगे जो भी कार्यवाही होगी, विचरण न्यायालय में होगी. मुझे न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है.

Ads

Ads

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.