14 लाख के चार इनामी नक्सलियों सहित छह ने किया आत्मसमर्पण, कई गंभीर घटनाओं में थे शामिल….

बीजापुर 11 सितंबर 2019। बीजापुर पुलिस के सामने छह नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। नक्सलियों में महिला सहित चार पर 14 लाख का इनाम पुलिस ने घोषित कर रखा था। नक्सलियों ने जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान से प्रेरित होकर और नक्सलियों की खोखली विचारधारा से क्षुब्ध होकर आत्मसमर्पण किया है। सभी नक्सलियों के नाम कई अपराध थानों में दर्ज है। इन सभी नक्सलियों को एसपी दिव्यांग पटेल के द्वारा 10-10 हजार की प्रोत्साहन राशी दी गई।
आत्मसमर्पित नक्सलियों में दिलीप वड्डे चिन्ना प्लाटून कमांडर माड़ डिवीजन पर आठ लाख का इनाम, मड़कम बण्डी डिप्टी सेक्शन कमांडर माड़ डिवीजन पर तीन लाख इनाम, सनकी बड्डे उर्फ सुजाता प्लाटून दो अबूझमाड़ एरिया कमेटी पर दो लाख इनाम, महेश वासम सीएनएम सदस्य नेशनल पार्क एरिया कमेटी, विनोद मेटटा सीएनएम सदस्य नेशनल पार्क एरिया कमेटी का नाम शामिल है।

आत्मसमर्पित नक्सलियों के खिलाफ दर्ज मामले….

दिलीप वड्डे चिन्ना वर्ष 2003 में गीदम थाना लुटने की घटना में शामिल था, वर्ष 2003 में कोरापुट उड़ीसा पुलिस लाईन को लुटने की घटना में शामिल था, वर्ष 2005 में धौडाई थाना जिला नारायणपुर में लुटने की घटना में शमिल था, वर्ष 2007 मे झाराघाटी जिला नारायणपुर की घटना में शामिल था, वर्ष 2007-08 में कुदूर घाटी जिला नारायणपुर की घटना में शामिल था, वर्ष 2008-09 के सुलेंगा जिला नारायणपुर मध्य एम्बुश की घटना में शामिल, वर्ष 2008-09 के बीच मुंगपल्ली नारायणपुर एम्बुश की घटना में शामिल था, वर्ष 2010 तक कोगेंरा जिला नारायणपुर गांव की पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में शामिल था, वर्ष 2015 में गुडरापारा जिला नारायणपुर में पुलिस -नक्सली मुठभेड़ मेंं शामिल था, वर्ष 2016 में अबुझमाड़ पीटेकल में हुये मुठभेड़ में दाहिने हाथ की कलाई में गोली लगा था, वर्ष 2016 में बासिन कैम्प जिला नारायणपुर में फायरिंग हुआ, देशी बम से हमले में शामिल था, वर्ष 2016 में मेडमामेंटटा जिला नारायणपुर में पुलिस नक्सली मुठभेड़ व एम्बुश की घटना में शामिल था ।

मड़कम बण्डी उर्फ बण्डू पिता नंदा उम्र-30 वर्ष, जाति गोड़
संगठन में भर्ती – वर्ष 2010 में बोडकेल एरिया कमेटी के मल्ले द्वारा संगठन में भर्ती किया
गया। वर्ष 2010 से 2012 तक कम्पनी सदस्य व 2013 से 2018 तक कंपनी के बी सेक्शन
का डिप्टी सेक्शन कमांडर के रूप में कार्य कर रहा था।
घटना में शामिल :-वर्ष 2010 में चितंलनार, तिपुरम की घटना में शामिल था, वर्ष 2016 में बासिन कैम्प नारायणपुर में देशी लांचर फेकने की घटना में शामिल था, वर्ष 2017 में आकाबेड़ा कैम्प नारायणपुर में देशी लांचर फेकने की घटना में शामिल था, वर्ष 2018 में इरपानार की घटना में शामिल था ।

सनकी वड्डे उर्फ सुजाता उर्फ सम्मी ,पति चिन्ना वड्डे उर्फ दिलीप उम्र 27 वर्ष,संगठन में भर्ती – वर्ष 2008 में कमांडर हरिराम के द्वारा संगठन में भर्ती किया गया। संगठन में वर्ष 2008 से अबतक
घटना में शामिल :-वर्ष 2009 में कोंगेरा एम्बुश (अबुझमाड़ क्षेत्र) की घटना में शामिल थी,वर्ष 2009 में रिसगांव एम्बुश जिला धमतरी की घटना में शामिल थी, वर्ष 2015 में बासीन (जिला नारायणपुर) कैम्प अटैक की घटना में शामिल थी।

Ads

Ads

बुदरी उसेण्डी पिता गुड्डी उम्र 22 वर्ष, जाति-माडि़या, संगठन में भर्ती – वर्ष 2016 में आदेड़ एरिया कमेटी के कमांडर दीपक मुहन्दा के द्वारा संगठन में भर्ती किया गया। जिसमें वर्ष 2016 से अबतक डीव्हीसी रनीता की गार्ड थी।

महेश वासम पिता रामैया वासम उम्र 18 वर्ष, संगठन में भर्ती :- वर्ष 2017 में पाली कुरसम के द्वारा भर्ती कराया गया। वर्ष 2017 से अबतक सीएनएम सदस्य के रूप में कार्य कर रहा था।
घटना में शामिल – वर्ष 2017 में बारेगुड़ा चौक में विश्वनाथ बस को जलाने की घटना में शामिल।

विनोद मेट्टा पिता पोम्मा मेट्टा उम्र 25 वर्ष,संगठन में भर्ती :- वर्ष 2011 में डीएकेएमएस अध्यक्ष मट्टीमरका सुरेष के द्वारा संगठन में जबरजस्ती डराधमकाकर संगठन में भर्ती कराया गया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.