SECL के CMD पंडा बोले, जीरो एक्सीडेंट लक्ष्य प्राप्त करना हमारी सामुहिक जिम्मेदारी

0 45वीं त्रिपक्षीय सुरक्षा समिति की बैठक सम्पन्न

बिलासपुर, 24 अगस्त 2019। साऊथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड में शून्य दुर्घटना लक्ष्य प्राप्त करना हमारी सामुहिक जिम्मेदारी है इसके लिए जो भी जरूरत होंगी उसे पूरा किया जाएगा।- उक्त उद्गार एसईसीएल के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक श्री ए.पी. पण्डा ने आज एसईसीएल प्रशासनिक भवन के सीएमडी सभागार में 45वीं त्रिपीक्षीय सुरक्षा समिति की बैठक को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने आगे कहा कि इस सदन से जो भी सुझाव प्राप्त हुए हैं उन्हें पूरा किया जाएगा। उन्होंने क्षेत्रीय महाप्रबंधकों से अनुरोध किया कि अपने क्षेत्र में उत्पादकता के साथ सुरक्षित वातावरण एवं सुरक्षित कार्यस्थल सुनिश्चित करें। हम एक सार्वजनिक संस्थान में कार्यरत हैं अतः हमें शासकीय नियमों का पालन करना भी आवश्यक है। नई टेक्नॉलॉजी को भी हम उसी रूप में अपनाएंगे जिससे खान दुर्घटना में कमी हो।
उप महानिदेशक खान सुरक्षा पश्चिमी क्षेत्र नागपुर श्री आर. सुब्रमनीयन एवं उप महानिदेशक खान सुरक्षा रॉची श्री सुभ्रो बागची ने कहा कि एसईसीएल की कार्यसंस्कृति सबसे अच्छी है। खदान के लिए जो भी आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराना है उसे पूर्ण करें। उन्होंने आगे कहा खदान में आग से बचाव के लिए आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था अपनाना चाहिए तथा सुरक्षा समिति की किसी भी स्तर की बैठक में जो भी रचनात्मक सुझाव प्राप्त होते हैं उसे पूर्ण रूप से अमल में लाना चाहिए।
निदेशक (कार्मिक) डॉ. आर.एस. झा ने कहा प्राप्त सुझावों पर चिन्तन करना आवश्यक है। अंत में उन्होंने इस बैठक के सफल आयोजन पर महाप्रबंधक (खान सुरक्षा/बचाव) व उनकी टीम को धन्यवाद दिया ।
निदेशक तकनीकी (संचालन) श्री आर.के निगम ने कहा कि सुरक्षा मानक को हम जितना आगे ले जा सकते हैं उस पर हमें सुरक्षा के सभी समीतियों में इस पर विचार करना चाहिए। जिन ट्रेनिंग सेन्टर में कमियॉं हैं उन्हें दूर किया जाएगा। उन्होंने महाप्रबंधकों से आग्रह किया कि जो भी सुझाव आए हैं उस पर पूरा ध्यान दें तभी हम शून्य दुर्घटना लक्ष्य को प्राप्त कर सकेंगे ।
निदेशक तकनीकी (योजना/परियोजना) श्री एम.के. प्रसाद ने कहा कि हमारा लक्ष्य शून्य दुर्घटना दर होना चाहिए। उन्होंने आव्हान करते हुए कहा कि प्रत्येक चीज के लिए नियम है, हम इन नियमों का पालन कर किसी भी प्रकार की खान दुर्घटना को रोक सकते हैं ।
बैठक में त्रिपक्षीय सुरक्षा समिति के सदस्य श्री आनदं मिश्रा (एचएमएस), श्री बी. धर्माराव (एटक), श्री व्ही.एम. मनोहर (सीटू), श्री एस.के. दुबे (बीएसएस) ने खान सुरक्षा मानकों पर अपने विचार रखे।
बैठक में श्री एस.एस. प्रसाद निदेशक खान सुरक्षा बिलासपुर, श्री सैफुल्ला अंसारी निदेशक खान सुरक्षा रायगढ़, श्री विनोदानंद कालुन्दिया निदेशक खान सुरक्षा जबलपुर, श्री आनंद अग्रवाल निदेशक खान सुरक्षा (विद्युत) रॉंची, श्री एस. भाईसारे निदेशक खान सुरक्षा (यांत्रिकी) पश्चिमी क्षेत्र नागपुर, श्री बेहरा निदेशक खान सुरक्षा (विद्युत) पश्चिमी क्षेत्र नागपुर, श्री सी. पलानीमलई निदेशक खान सुरक्षा (विद्युत) पश्चिमी क्षेत्र नागपुर, श्री के. मण्डल निदेशक खान सुरक्षा नागपुर, श्री व्ही. रजक उप निदेशक खान सुरक्षा जबलपुर, श्री ए.एच. अंसारी उप निदेशक खान सुरक्षा जबलपुर, श्री एम.के. साहू उप निदेशक खान सुरक्षा रायगढ़, श्री ए. राजेश्वर राव उप निदेशक खान सुरक्षा बिलासपुर, श्री एस.के. पेडेडा उप निदेशक खान सुरक्षा (यांत्रिकी) रॉंची, श्री अनिल टोप्पो उप निदेशक खान सुरक्षा (विद्युत) रॉंची, श्री यू.के. साहू उप निदेशक खान सुरक्षा (यांत्रिकी) रॉंची, श्री टी. अरूण उप निदेशक खान सुरक्षा (विद्युत) पश्चिम क्षेत्र नागपुर, श्री आनंदवेल उप निदेशक खान सुरक्षा (विद्युत) पश्चिम क्षेत्र नागपुर ने प्राप्त सुझावों एवं अपने निरीक्षण दौरे में जॉंच के पश्चात जो देखा उसकी बेहतरी हेतु अपना सुझाव भी दिए। वहीं क्षेत्रीय महाप्रबंधकों एवं विभागाध्यक्षों ने भी प्राप्त सुझावों पर अमल करने को दोहराया।
बैठक में श्रमशक्ति, सुरक्षा उपकरणों की उपलब्धता, प्रशिक्षण, सुरक्षा संबंधी जागरूकता में बढ़ोत्तरी, खान निरीक्षण सहित खान सुरक्षा के विभिन्न मुद्दों पर विस्तृत चर्चा हुई।
बैठक का शुभारंभ सुरक्षा दीप प्रज्जवलन से शुरू हुआ उपरांत पिछली बैठक से लेकर इस बैठक के दरमियान कोयला उत्पादन में लगे उन श्रमवीरों जिन्होंने वीरगति को प्राप्त किया उन्हें दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई। बैठक में कोलइण्डिया कारपोरेट गीत बजाया गया पश्चात समस्त उपस्थितों द्वारा सुरक्षा शपथ लिया गया। बैठक में सभी आगन्तुकों का पुष्पगुच्छ से स्वागत किया गया। स्वागत सम्बोधन श्री घनश्याम सिंह महाप्रबंधक (खान सुरक्षा/बचाव) ने देते हुए सुरक्षा के सम्बन्ध में जानकारी उपलब्ध कराई। बैठक में पावरप्वाईंट के माध्यम से सुरक्षा प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया।

Ads

Ads

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.