बोले IPS जितेंद्र शुक्ला – “जवानों को क्षमता और दक्षता के आधार पर मिलेगा मौका.. पीड़ित और जनता के प्रति पुलिस के मैत्रीपूर्ण संबंध प्राथमिकता”

महासमुंद 19 अगस्त 2019। सुकमा में मंत्री के गैर वाजिब आदेश को ख़ारिज करने वाले और बदले में ट्रांसफर होने वाले IPS जितेंद्र शुक्ला की फिर से फ़ील्ड में वापसी हुई है। जितेंद्र शुक्ला महासमुंद के कप्तान बनाए गए हैं। सहज सरल और कर्तव्यनिष्ठ IPS जितेंद्र शुक्ला कम शब्दों में मुकम्मल बात कहे जाने के लिए पहचाने जाते हैं।
कप्तान जितेंद्र शुक्ला ने NPG से कहा

“जवानों को दक्षता और क्षमता के आधार पर पूरा मौका मिलेगा कि वे बेहतरीन काम करें..जिन्हे लगता है कि उन्हे अवसर नही मिला.. मेरा प्रयास रहता है कि उन्हे पूरा मौका दूँ कि वे खुद को साबित करें”

महासमुंद में पुलिसिंग को लेकर उन्होने कहा

“संतोष सिंह सर ने जो काम किया है उसे आगे बढ़ाएँगे.. मेरी प्राथमिकता रहेगी कि पीड़ित और जनता के साथ पुलिस के मैत्री पूर्ण संबंध रहें.. आखिरकार हम जनता के प्रति ही उत्तरदायी हैं”

Ads

Ads

IPS जितेंद्र शुक्ला बीते दिनों तक PHQ अटैच कर दिए गए थे। सुकमा और उसके बाद के घटनाक्रमों पर प्रतिक्रिया माँगने पर उन्होने मुस्कुराते हुए कहा

“ फ़ील्ड के बाद मुख्यालय में पहुँचने का फ़ायदा हुआ.. मैं और सीखा ही.. वर्सिटाईल हुआ हूँ.. और यह विश्वास और दृढ़ हुआ है कि अच्छे काम और धैर्य का परिणाम अच्छा होता है”

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.