RPF जवान ने पड़ोसी के परिवार को गोलियों से भूना…..3 लोगों की मौत, 2 की हालत गंभीर….दूध के विवाद में बही खून की नदी

रामगढ़(झारखंड)18 अगस्त 2019। नशे में धुत एक आरपीएफ का जवान ने रेलवे कर्मी के परिवार पर अंधाधुुंध फायरिंंग कर 5 लोगों को गोलियों से भून दिया। इस गोलीबारी में परिवार के 3 लोगों की मौत हो गयी, वहीं 2 लोगों की हालत गंभीर बतायी जा रही है।घटना बरकाकाना रेलवे कॉलोनी की है। रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के  जवान पवन कुमार सिंह ने रेलवे पोर्टर अशोक राम के घर में घुस कर परिवार के पांच लोगों को गोली मार दी. घटना शनिवार रात लगभग सवा आठ बजे की है.  गोली लगने से  अशोक राम, उनकी पत्नी  लीला देवी व गर्भवती बेटी मीना देवी की मौत हो गयी. जबकि बेटी सुमन देवी और बेटा संजय राम गंभीर रूप से घायल हो गये.

हमले में अशोक राम की छोटी बेटी रजनी बाल-बाल बच गयी. घटना को अंजाम देने के बाद पवन सिंह पिस्टल लहराते  हुए भाग निकला. वहीं, फायरिंग की आवाज सुन कर आसपास के लोग अशोक राम के घर पहुंचे और  सभी को रेलवे अस्पताल ले गये.  वहां इलाज के क्रम में अशोक राम की मौत हो गयी. वहीं, घायल भाई-बहनों को रांची रोड स्थित द होप अस्पताल ले जाया गया, वहां से रांची रेफर किया गया. रांची ले जाने के क्रम में गर्भवती मीना देवी की भी माैत हो गयी. घायल बेटी सुमन देवी और बेटा संजय राम को मेदांता में भर्ती कराया गया है. पवन को दो दिन पहले ही विभाग की ओर से पिस्टल मिला था.

दूध लेने के क्रम में हुआ विवाद :

Ads

Ads

अशोक राम के परिवार में सात सदस्य हैं. बड़ा बेटा रमेश ऑटो चालक है. घटना के समय वह बरकाकाना रेलवे स्टेशन पर था.  हमले में बची रजनी उर्फ प्रियंका ने पुलिस को बताया कि उसके घर के सामने ही पवन कुमार सिंह रहता है और उसी के यहां से दूध लेने आता था. शनिवार रात में भी पवन दूध लेने आया. इसी दौरान पिता अशोक राम से उसकी बकझक हो गयी. तब पिता ने दूध देने से इनकार कर दिया. इसके बाद पवन ने पिस्टल निकाल कर पिता, मां, दो बहनों और भाई को गोली मार दी. गोली लगने से मां लीला देवी की घर में ही मौत हो गयी.

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.