‘चौकीदार चोर है’ पर फंसे राहुल गांधी…..सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया नोटिस, ‘चौकीदार चोर है’ बयान पर मांगा जवाब

नई दिल्ली 15 अप्रैल 2019। सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर की गई टिप्पणी ‘चौकीदार चोर है’ को लेकर नोटिस जारी किया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा नए दस्तावेजों के आधार पर राफेल डील पर पुनर्विचार याचिका स्वीकार किए जाने को ‘चौकीदार चोर है’ के रूप में पेश करने से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मुश्किलें बढ़ गई हैं।सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नोटिस भेजा है। कोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ राफेल मामले पर गलत बयानबाजी को लेकर दायर अवमानना ​​याचिका के संबंध में नोटिस जारी किया। सोमवार दोपहर कोर्ट ने नोटिस जारी कर उनसे स्पष्टीकरण मांगा है।

यह केस भाजपा सांसद सांसद मीनाक्षी लेखी की ओर से दायर किया गया था। सांसद मीनाक्षी ने अपनी याचिका में कहा था कि राफेल मामले पर कोर्ट के फैसले को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने हाल में जो टिप्पणी की है, वह कोर्ट की अवमानना है।

कोर्ट ने कहा, ‘हम यह स्पष्ट करते हैं कि राहुल गांधी ने इस अदालत का नाम ले कर राफेल सौदे के बारे में मीडिया और जनता में जो कुछ कहा उसे गलत तरीके से पेश किया। हम यह स्पष्ट करते हैं कि राफेल मामले में दस्तावेजों को स्वीकार करने के लिए उनकी वैधता पर सुनवाई करते हुए इस तरह की टिप्पणियां करने का मौका कभी नहीं आया।’

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगई की पीठ ने कहा कि कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की, इसका मतलब है कि राहुल गांधी का बयान गलत है। कोर्ट ने कहा कि राहुल गांधी द्वारा शीर्ष अदालत की टिप्पणी को गलत तरह से पेश किया गया है।
Ads

Ads

सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा?
उच्चतम न्यायालय ने कहा कि कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर कोई टिप्पणी नहीं की थी। कोर्ट ने राफेल मामले को लेकर कुछ दस्तावेजों की स्वीकार्यता तय की थी। उच्चतम न्यायालय ने कहा कि हम यह स्पष्ट करते हैं कि राहुल गांधी ने इस अदालत का नाम लेकर राफेल सौदे के बारे में मीडिया व जनता में जो कुछ कहा उसे गलत तरीके से पेश किया। न्यायालय ने कहा कि राफेल मामले में दस्तावेजों को स्वीकार करने के लिए उनकी वैधता पर सुनवाई करते हुए इस तरह की टिप्पणियां करने का मौका कभी नहीं आया।गौरतलब है कि पिछले शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी की सांसद मीनाक्षी लेखी ने राहुल गांधी के खिलाफ अवमानना याचिका दायर की थी। उन्होंने उच्चतम न्यायालय में राहुल गांधी के खिलाफ राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर की गई टिप्पणी ‘चौकीदार चोर है’ को लेकर अवमानना याचिका दायर की थी। कोर्ट ने सोमवार को इस पर सुनवाई की और राहुल गांधी को नोटिस जारी किया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.