हिमाकत तो देखिये !…इलाके के एक गुंडे को बचाने महिलाओं ने पुलिसवालों पर किया हमला…. पुलिस हिरासत से बदमाश को छुड़वाकर कराया फरार

रायपुर 31 अगस्त 2019। हिमाकत तो देखिये !…इलाके के एक गुंडे को बचाने के लिए मोहल्ले की महिला पुलिसवालों से ही भीड़ गयी। गुंडे को बचाने उतरी इन महिलाओं के हमले से इंस्पेक्टर और पुलिसकर्मी चोटिल भी हो गये। महिलाओं ने पुलिस का रास्ता रोकर पिछले रास्ते उस बदमाश को फरार करा दिया। महिलाओं ने ना सिर्फ पुलिसकर्मियों का रास्ता रोका, बल्कि उनके साथ दुर्व्यवहार और खूब हाथापायी भी की। इस दौरान टीआई और पुलिसकर्मियों को चोटें भी आयी है।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

पूरा मामला दलदल सिवनी के BSUP काॅलोनी के इरानी डेरा का है। पुलिस को सूचना मिली थी कि स्थायी वारंटी यासिम अली बीएसयूपी कॉलोनी में छुपा था। जानकारी के बाद थाना विधानसभा और थाना पंडरी की संयुक्त टीम आरोपी को पकड़ने के लिये बीएसयूपी पहुंची। पुलिस को देख आरोपी यासिम अली भागने लगा। घंटों मशक्कत के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर थाने ला रही थी, उस दौरान कालोनी की 20 से 25 ईरानी महिलाएं हाथों में लाठी-डंडा लेकर पुलिस गाड़ी के पास पहुंची। और आरोपी को छोड़ने की बात कहकर पुलिस से झूमाझटकी करने लगी। काफी देर तक पुलिस के साथ महिलाएं झूमाझटकी करती रही।

इस पूरे घटना के दौरान आरोपी यासिम पुलिस के चंगुल से भाग निकला। महिलाओं के द्वारा की गयी झूमाझटकी और धक्का मुक्की में कई पुलिसकर्मियों को चोंटे भी आयी है। वहीं इस पूरे मामले में आरोपी को भगाने वाली महिलाओं के खिलाफ गैर जमानती धारा के तहत गिरफ्तार कर कार्रवाई की जा रही है।

गिरफ्तार महिलाओं में नाजिरा बेगम, परी बेगम, सालमा बानो, पाकीजा बानो, षबाना बानो, फैजा बानो, परवाना बानो, षमीम बानो, मेहर बानो, मम्मी, नाजिया बानो, गुलनार बानो, जहिरा बानो, गुलाब षाह बानो, फातिमा बेगम, फरीदा बानो, सायरा बानो, कनीज जायरा, अफसाना बानो, सुगरा बानो, फातिमा बानो, सायरा बानो, स्वेहरा बेगम, गुड्डी सेन शामिल है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.