ममता का चुनाव आयोग पर बड़ा आरोप, राज्य सरकार को अंधेरे में रखा गया…कोलकाता हिंसा के लिए बीजेपी को ठहराया जिम्मेदार

नईदिल्ली 15 मई 2019. सातवें और अंतिम चरण की वोटिंग 19 मई को होनी है इस चरण में 59 सीटों के लिए मतदान होना है इनमें वाराणसी, गोरखपुर,आजमगढ़, मध्यप्रदेश की भोपाल आदि और पंजाब, बिहार, झारखंड, हिमाचल और पश्चिम बंगाल की सीटों पर वोटिंग होनी है। इस दौर में ज्यादा से ज्यादा सीटें हासिल करने के लिए राजनीतिक दल अपनी पूरी ताकत झोंके हुए हैं।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

इस क्रम में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज बिहार के पालीगंज और झारखंड के देवघर में और पश्चिम बंगाल में दो रैलियां हैं। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की भी मध्यप्रदेश के धार और रतलाम में चुनावी रैली है। सातवें चरण में आठ राज्यों की 59 सीटों पर वोटिंग होगी। इस चरण में बिहार की (8), झारखंड की (3), एमपी की (8), पंजाब की (13), पश्चिम बंगाल की (9), यूपी की (13), हिमाचल की (4) सीटों पर वोट डाले जाएंगे।

ममता बनर्जी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि चुनाव आयोग को फैसला करना है। लेकिन आयोग टीएमसी की मांग पर ध्यान नहीं दे रहा है ऐसे में सवाल है कि वो लोग कहां अपील करें। सच ये है कि चुनाव आयोग बीजेपी को जिताने की कोशिश में जुटा हुआ है।

  • ममता बनर्जी ने कहा कि पीएम मोदी की गुरुवार को दो रैलियां हैं, लिहाजा चुनाव आयोग ने जिस तरह से प्रचार की समय सीमा घटाने का फैसला किया है वो सवालों के घेरे में है। सच ये है कि चुनाव आयोग निष्पक्ष ढंग से काम नहीं कर रहा है। टीएमसी की शिकायतों पर चुनाव आयोग संज्ञान नहीं लेता है।
  • ममता बनर्जी ने कहा कि मंगलवार को बंगाल में जो कुछ हुआ उसके लिए बीजेपी सीधे तौर पर जिम्मेदार है। बाहर के गुंडों को बीजेपी की तरफ से बुलाया गया था जिसका असर कोलकाता में दिखाई दिया।
  • चुनाव आयोग द्वारा पश्चिम बंगाल में प्रचार की समय सीमा घटाने पर ममता बनर्जी ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि आयोग ने राज्य सरकार को अंधेरे में रखा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बंगाल किसी तरह की हिंसा को बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने पूछा कि क्या पीएम मोदी बंगाल में हिंसा पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि अमित शाह ने चुनाव आयोग की धमकी दी। इसके साथ उन्होंने ये भी कहा कि बंगाल , बिहार, यूपी और त्रिपुरा नहीं है। बंगाल बंगाल है।
  • बंगाल में चुनावी हिंसा के बीच कोलकाता में आरएसएस के दफ्तर पर हमले की खबर है। हालांकि ये जानकारी नहीं है कि हमलावरों को किस संगठन से नाता है।

 

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.