भूपेश कैबिनेट की अहम बैठक आज …. सूखे के हालात सहित 15 अगस्त की घोषणाओं पर लगेगी मुहर…..तबादले के मद्देनजर शिक्षकों पर कर्मचारियों की भी रहेगी नजर

रायपुर 27 अगस्त 2019। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज शाम कैबिनेट की बैठक होगी। ये बैठक काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इस बैठक में अलग-अलग विभागों से आने वाले प्रस्तावों को मंजूरी तो दी ही जायेगी, साथ ही 15 अगस्त और पिछले दिनों हुई कुछ महत्वपूर्ण घोषणाओं पर कैबिनेट की मुहर भी लगायी जायेगी। अल्प वारिश की वजह से प्रदेश में सूखे के हालात और किसानी की स्थिति पर भी आज की बैठक में चर्चा होगी। अल्पवर्षा के चलते आधा दर्जन जिलों के 47 तहसीलों में फसल की स्थिति की समीक्षा भी की जाएगी। वहीं पूरे प्रदेश में कृषि फसल की बोनी और खाद वितरण व्यवस्था को लेकर समीक्षा की जाएगी।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

बैठक में सूखे के हालात, 2 अक्टूबर से शुरू होने वाले कुपोषण मुक्त अभियान के साथ-साथ प्रदेश में कई अहम मसलों पर बैठक में चर्चा होगी।पिछली दफा कैबिनेट की बैठक में राज्य सरकार ने ताबड़तोड़ फैसले लिये थे, लिहाजा माना जा रहा है कि मंगलवार की शाम होने वाली कैबिनेट की बैठक में भी कई बड़े मुद्दों पर चर्चा होगी।

माना जा रहा है कि 15 अगस्त को हुई घोषणा के मुताबिक राज्य में आरक्षण में अनसूचित जाति और पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को बढ़ाने पर कैबिनेट अपनी मंजूरी देगा। इसकी मंजूरी के बाद शासन इसका विधिवत आदेश जारी किया जायेगा। वहीं वन विभाग के अंतर्गत हाथी रिजर्व क्षेत्र लेमरू की सीमा का निर्धारण करते हुए कैबिनेट इसे मंजूरी प्रदान करेगा। बताया जाता है कि सरगुजा, कोरबा, धर्मजयगढ़ और रायगढ़ वनमंडल को शामिल कर करीब 1995 वर्ग किमी में यह रिजर्व क्षेत्र बनेगा। घोषणा के बाद इसके क्षेत्र के बारे में सरकार कैबिनेट की मंजूरी के बाद अधिकृत घोषणा करेगी।

 

तबादले को लेकर पूरे प्रदेश में असंतोष की स्थिति है, ऐसे में मंत्रियों के बीच इस मुद्दे पर चर्चा हो सकती है। हालांकि चर्चा ये भी है कि तबादले की तारीख में भी बढ़ोत्तरी हो सकती है। हालांकि ये एजेंडे में शामिल नहीं है, लेकिन अगर चर्चा में ट्रांसफर का मुद्दा आया तो इस पर कुछ अहम निर्देश जरूर दिये जा सकते हैं। दरअसल शिक्षकों में खासतौर पर तबादले को लेकर खूब सारी शिकायतें और गड़बड़ी की बातें सामने आयी है।

 

विज्ञापन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.