ब्रेकिंग: छत्तीसगढ़ में इस तरह भारी-भरकम जुर्माने से बच सकते हैं आप…ट्रैफिक रूल तोड़ने पर इस तरह मिलेगी रियायत…. ये आपके काम की है खबर, जरूर पढ़िये

रायपुर 1 सिंतबर 2019। …एक बड़ी खबर राजधानी रायपुर से आ रही है। देश में भारी-भरकम जुर्माना वाला मोटर व्हीकल एक्ट तो लागू हो गया है, लेकिन छत्तीसगढ़ में चाहें आप तो बड़े जुर्माने से बच सकते हैं। छत्तीसगढ़ में समझौता शुल्क पुराने मोटल व्हीकल एक्ट के तौर पर ही बरकरार रखा गया है। मतलब समझौते के तर्ज पर जुर्माने की राशि पटायी गयी, तो उसमें अभी की तरह बड़ी राशि नहीं देनी होगी। हालांकि प्रदेश में भी नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हो गया है, लेकिन अभी सिर्फ समझौता शुल्क ही रियायत दी गयी है।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

आपको बता दें कि नये मोटर व्हीकल एक्ट में बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने, शराब पीकर गाड़ी चलाने, ओवरस्पीड आदि के नियमों का उल्लंघन करने पर पहले के मुकाबले ज्यादा जुर्माना देना होगा। नए नियम के तहत शराब पीकर गाड़ी चलाने पर पहले अपराध के लिए 6 महीने की जेल और 10,000 रुपये तक जुर्माने का प्रावधान है, जबकि दूसरी बार ये गलती करते हैं तो 2 साल तक जेल और 15,000 रुपये तक का जुर्माने का प्रावधान है।

इसके अलावा बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर 500 रुपये की जगह अब 5,000 रुपये जुर्माना देना होगा. वहीं अगर कोई नाबालिग गाड़ी चलाता है तो उसे 10,000 रुपये जुर्माना देना होगा जो पहले 500 रुपये था। स्पेशल डीजी आरके विज ने NPG से कहा कि

“आज से नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हो गया है, लेकिन समझौता शुल्क पूर्व के मोटर व्हीकल एक्ट की तरह यथावत रखा गया है, इसका मतलब ये हुआ कि आप को पुलिस रेड लाईट क्रॉस करते पकड़ा और आपने गलती मानी और कहा सर चालान काट दो तो यह चालान उसी पुराने दर पर होगा, हालांकि आने वाले समय में यह समझौता शुल्क बढ़ेगा, पर तब बढ़ेगा जबकि सरकार नोटिफिकेशन जारी करेगी..जो केंद्र सरकार ने नए नियम बनाए हैं वे प्रभावी हैं.. केवल समझौता शुल्क पुरानी दर पर है”

 

विज्ञापन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.