नान घोटाले में EOW की बड़ी कार्रवाई ….चिंतामणि चंद्राकर के एक साथ कई ठिकानों पर छापेमारी….नये सबूत मिलने की उम्मीद

रायपुर 19 अगस्त 2019। प्रदेश के चर्चित नान घोटाले में आज EOW ने बड़ी कार्रवाई की है। नान के तत्कालीन मैनेजर रहे चिंतामणि चंद्राकर के एक साथ कई ठिकानों पर EOW की टीम ने दबिश दी है। EOW के दुर्ग, कांकेर और बैंग्लुरू स्थित मकान और घर पर छापेमारी की गयी। फिलहाल टीम मकान और आफिस के काग्ज और दस्तावेजों की जांच कर रही है। माना जा रहा है कि इस जांच के बाद संपत्ति के बारे में खुलासा हो सकता है।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

नान घोटाले में ईओडब्ल्यू ने 2015 में जब छापा मारा तो चिंतामणि चंद्राकर रायपुर में पदस्थ थे। नई सरकार बनने के बाद उनका तबादला कांकेर किया गया। यहां वे नान के जिला प्रबंधक है। नान डायरी में चिंतामणि का नाम सामने आया था। ईओडब्ल्यू के आला अधिकारियों ने बताया कि चिंतामणि नान के जिला प्रबंधक रहने के दौरान एमजीएम में भी ट्रस्टी बन गया था।

इससे पहले चिंतामणी को लंबे समय से ईओडब्लू में बयान देने बुलाया जा रहा था। 8 से ज्यादा नोटिस जारी किया जा चुका था। अफसरों को उम्मीद है कि छापेमारी के बाद कुछ अहम तथ्य मिल सकते हैं।

विज्ञापन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.