तीन सितम्बर को शिक्षाकर्मी संघ सौंपेगा ज्ञापन…. समयमान वेतनमान के आधार पर वेतन की गणना कर रिवाइज्ड LPC जारी करने की करेंगे मांग

रायपुर 29 अगस्त 2019। नवीन शिक्षाकर्मी संघ के प्रदेश अध्यक्ष विकास सिंह राजपूत व उमा जाटव के नेतृत्व में तीन सितम्बर को नवीन शिक्षाकर्मी संघ छ.ग.द्वारा रायपुर,बस्तर,सरगुजा व बिलासपुर के सम्भाग आयुक्त को ज्ञापन सौपेगा। ज्ञापन में समयमान वेतनमान के आधार पर वेतन की गणना कर रिवाइज्ड एलपीसी जारी कर संविलियन पश्चात सातवां वेतनमान प्रदान करने की मांग को शासन-प्रशासन के समक्ष प्रमुखता से रखा जायेगा।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

गंगा पासी, नंदिनी देशमुख, बलविंदर कौर व संगीता बैस ने कहा है कि 2013 मे राज्य शासन द्वारा जब शिक्षको के समतुल्य वेतनमान देने का पंचायत विभाग द्वारा आदेश जारी किया गया उसके बाद पुनरीक्षित वेतनमान का का गणना जिला व जनपद पंचायत कार्यालय द्वारा नये कर्मचारियों के समान निम्न वेतनमान के आधार पर वेतन की गणना कर दिया गया जिससे प्रदेश मे कार्यरत शिक्षक पंचायत व शिक्षक एलबी संवर्ग को प्रति माह हजारो रुपये का नुकसान हो रहा है।

गिरीश साहू,अभिनय शर्मा,दुष्यंत कुंभकार,अमितेश तिवारी,रूपेंद्र सिन्हा,संजय साहू,अजय कड़व,अमित नामदेव,प्रकाशचन्द कांगे,मनोज चन्द्रा,ब्रिज नारायण मिश्रा,राजेश शुक्ल,चन्द्रशेखर रात्रे,सतिस टण्डन ने कहा है की समयमान वेतनमान आज भी प्रदेश के शिक्षक पंचायत संवर्ग को सात वर्ष पूर्ण करने बाद दिया जा रहा है लेकिन आठवे वर्ष पुनरीक्षित वेतनमान व संविलियन के समय समयमान वेतनमान के आधार पर वेतन की गणना नही किया जा रहा है जबकि शासन को चाहिए की आठवे वर्ष समयमान वेतनमान के आधार पर विद्यमान वेतन के अनुसार वेतन का गणना कर वेतन भुगतान करना चाहिए,संजीव मानिकपुरी,छन्नूलाल साहू,वेदप्रकाश साहू,अमीन बंजारे,नरेश चौहान,संजय डोंगरे,अनुभव तिवारी,रमन शर्मा,देवकांत सिन्हा, हरिकांत अग्निहोत्री ने कहा कि छ.ग.वेतन पुनरीक्षण नियम 2009 के अनुसार अनुसूची-एक के आधार पर विद्यमान वेतनमान के आधार पर वेतन की गणना किये जाने का प्रावधान है।

उसके बाद भी शिक्षक पंचायत संवर्ग को सात वर्ष पूर्ण करने के बाद आठवे वर्ष जब वेतन प्रदान किया जाता है तो सात वर्ष की सेवा अवधि को समाप्त कर छ.ग.वेतन पुनरीक्षण नियम 2009 के अनुसूची-दो के अनुसार नये कर्मचारियों को प्रदान किये जाने वाले वेतन का भुगतान किया जा रहा है इसी विसंगति को दूर करवाने का हेतु नवीन शिक्षाकर्मी संघ द्वारा लगातार आवाज बुलन्द कर संघर्ष किया जा रहा है,तीन सितम्बर को सभी सम्भाग आयुक्त को ज्ञापन सौपकर समयमान वेतनमान के आधार पर वेतन की गणना कर रिवाइज्ड एलपीसी जारी कर संविलियन पश्चात सातवां वेतनमान प्रदान करने की मांग नवीन शिक्षाकर्मी संघ द्वारा किया जायेगा

विज्ञापन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.