अयोध्या विवाद केस: मध्यस्थता पैनल 18 जुलाई को करे पेश रिपोर्ट….कहा- मध्यस्थता नहीं बढ़ी, आगे तो 25 जुलाई से रोजाना सुनवाई

नई दिल्ली 11 जुलाई 2019। अयोध्या जमीन विवाद मामले में गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। जिसके बाद अदालत ने 18 जुलाई को मध्यस्थता पैनल से रिपोर्ट पेश करने को कहा है। अदालत ने कहा कि अगर मध्यस्थता पैनल की रिपोर्ट में किसी तरह की प्रगति की नहीं दिखाई देती है तो 25 जुलाई से हर दिन सुनवाई की जाएगी। लेकिन वो अपने पहले के फैसले को नहीं बदलेंगे। हिंदू पक्षकारों की तरफ से अदालत में जल्द सुनवाई के लिए याचिका लगाई गई थी।  बता दें कि अयोध्या मामले को सुलझाने के लिए 15 अगस्त का समय दिया गया था।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

सीजेआई रंजन गोगोई की पीठ ने कहा कि मध्यस्थता मामले में प्रगति के बाद समय सीमा बढ़ाई गई है। ये बात अलग है कि मध्यस्थता के खिलाफ अर्जी लगाने वाले याचिकाकर्ता का कहना है कि मध्यस्थता से किसी तरह का फायदा नहीं हुआ है। लेकिन अदालत का कहना है कि वो पहले के फैसले पर कायम है।

हिंदू पक्षकारों की तरफ से वकील के पराशरन ने कहा कि ये साफ हो चुका है कि मध्यस्थ पैनल किसी खास नतीजे पर पहुंचने में नाकाम है, लिहाजा अदालत को इस विषय में सुनवाई के लिए तारीख देनी चाहिए।

सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि हमने इस विषय पर मध्यस्थता पैनल का गठन किया था। अदालत को पैनल के रिपोर्ट का इंतजार करना होगा। पहले आप लोग मीडिएशन पैनल के रिपोर्ट का इंतजार करें।

विज्ञापन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.