Home कॉरपोरेट जब एक खलासी ने 30 किलोमीटर तक दौड़ाई ट्रेन….

जब एक खलासी ने 30 किलोमीटर तक दौड़ाई ट्रेन….

197
0

 

गोरखपुर 25 जून 2018. उत्तर प्रदेश को गोरखपुर जिले में बीते 21 जून को एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया। जहां रेलकर्मियों ने एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी (खलासी) को ट्रेन का गार्ड बनाकर ट्रेन रवाना कर दी। इस मामले का खुलासा होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। खलासी उनौला से गोरखपुर तक 30 किलोमीटर गार्ड बनकर ट्रेन ले आया। रेल प्रशासन का कहना है कि मालगाड़ी को गार्ड और ड्राइवर ने ड्यूटी पूरा होने पर उनौला में छोड़ दिया। इस दौरान चालक तो मिल गया लेकिन गार्ड नहीं मिला। उधर, ट्रैक पर दूसरी ट्रेनें खड़ी होने लगीं तो एक खलासी को प्वाइंट के साथ गार्ड की जगह भेजा गया।

21 जून को खलासी सावंत को गोरखपुर गार्ड लाबी से यह कहकर भेजा गया कि वहां से उसे मालगाड़ी गोरखपुर तक लानी है। साथ में प्वाइंट मैन दिया जाएगा। आदेश के बाद सावंत 41 नम्बर का वॉकी-टॉकी लेकर सत्याग्रह से उनौला के लिए रवाना हो गया। वहां उसे उतारकर पहले से खड़ी मालगाड़ी में गार्ड बनाकर गोरखपुर तक भेजा गया। सीपीआरओ संजय यादव का कहना है कि गार्ड के न रहने से इमरजेंसी में एक चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी को (प्रशिक्षित) प्वाइंट मैन के साथ कुछ ही दूरी तक भेजा गया।