Home बड़ी खबर आधी तूफान ने मचाई तबाही…किसानों की 500 एकड़ फसल तबाह...

आधी तूफान ने मचाई तबाही…किसानों की 500 एकड़ फसल तबाह ….

267
0
धमतरी 15 मई 2018  वैसे तो छत्तीसगढ मे आंधी तूफान ने कहर बरपाना शुरू कर दिया  छत्तीसगढ के कई जिले मे आधीं तूफान के चलते इलाके मे जन जीवन अस्त व्यस्त तो गया है . तो वही धमतरी जिले मे सैकडो किसानो की मूशिकले बढा दी है जहा किसान रबी के फसल मे अच्छी पैदावार की उम्मीद कर रहे थे . लेकिन इन दिनो आधी तूफान ओलावृष्टि गिरने से सैकडो किसानो की 500 एकड फसल पूरी तरह नष्ट हो गई . अब किसान प्रशासन से मदद की गुहार लगाने पहुच रहे है …. वही किसानो का कहना है कि इस बार एक बोरी भी धान नही मिल पाएगी … जबकि प्रशासन सर्वे करने की बात कर रहे है …..दरअसल .खेत मे अपनी तकदीर को कोसते ये वे किसान है जो अब आसरा है तो सिर्फ सरकार से …क्योकि आंधी तुफान ओलावृष्टि ने अपने साथ उसके अरमानो को उडा ले गया ……. और छोड गया तो बर्बादी की तस्वीर
. .ये तस्वीर है धमतरी जिले की मगरलोड इलाके की जहा खैरझिटी,सांकरा,परसापानी,मेघा,सेन्हाभाठा गांवो की सैकडो किसानो की तकरीबन 500 एकड की फसल की अब पूरी तरह नष्ट हो गई है …… वही फसल नष्ट होने से किसानो की उम्मीद पूरी तरह टूट गई …. किसानो की माने तो इस बार रबी के फसल मे किसानो को अच्छी पैदावार की उम्मीद थी …. और फसल पकने के कगार पर थे …. लेकिन एन वक्त मे अंाधी तूफान ओलावृष्टि गिरने से किसानो पर कहर बनकर तूट पडा है …. और उनकी सपनो पर पानी फेर दिया है … अब किसान शासन प्रशासन से फसल का मुआवजा मगने जिला प्रशासन के पास पहुच रहे है …. उनकी माने तो इलाके के 500 एकड मे पूरी तरह फसल नष्ट हो चूकी है ….
और सभी बैकंो और साहूकारो से कर्ज लेकर उत्पादन कर रहे थे …. अब फसल नष्ट होने से किसान कर्ज मे डूब चूके है …. वैसे तो बेबस किसानो को प्रशासन और सरकार से पूरी तरह निर्भर हो गए …. और प्रशासन से उम्मीद लगाए बैठे है …. कि उनकी किसी तरह मदद करे ताकि बैंको और साहूकारो के साथ साथ अपने परिवारो को भी भरण पोषण कर सके … बहरहाल शासन प्रशासन अगर समय रहते इन किसानो की तकलीफो को दूर कर देते है …. तो उनके जीवन मे खुशी कि किरण फिर से लौट सकती है …. यदि एैसा नही हो पाया तो … किसान फिर एक बार कर्ज के बोज तले दबे रहेगे ……..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here